Why Direct Selling and MLM started? डायरेक्ट सेल्लिंग और MLM की शुरुआत क्यूँ हुई आज यह जान लीजिये बहुत काम आएगा

Why Direct Selling and MLM started? आज के इस लेख में मैं आप सभी को बताऊंगा कि नेटवर्क मार्केटिंग क्या है?

“If you want increase your net worth so you increas your network”

नेटवर्क मार्केटिंग से कंपनी ,कंजूमर,और गवर्नमेंट को क्या-क्या फायदा होता है?

और नेटवर्क मार्केटिंग का उद्देश्य क्या है?

तो चलिए सबसे पहले यह समझ लेते हैं कि नेटवर्क मार्केटिंग क्या है?

Why Direct Selling and MLM started-min

What is network marketing? नेटवर्क मार्केटिंग क्या है?

मैं आप सभी को अगर नेटवर्क मार्केटिंग के बारे में समझाना चाहूं तो एक बहुत ही आसान भाषा में समझाना चाहूंगा की नेटवर्क मार्केटिंग की एक स्ट्रेटजी है,

हमारे साथ टेलीग्राम पर जुड़ें

प्रोडक्ट या सर्विस को मैन्युफैक्चरर से कस्टमर तक पहुंचाया जाता है इसमें जितने भी एडवरटाइजिंग कंपनी होती है उसको निकाल दिया जाता है।

इससे क्या होता है कि कंपनी ,कस्टमर और गवर्नमेंट इन तीनों का फायदा होता है।

तो सबसे पहले यह समझते हैं कि इसमें कंपनी को क्या फायदा होता है?

What is benefit of network marketing company?

तो इसको समझने के लिए सबसे पहले आपको ट्रेडीशनल मार्केटिंग के बारे में समझना होगा।

ट्रेडीशनल मार्केटिंग में क्या होता है कि जैसे कि आप अपने घर पर बैठे हैं और आप एक ऐड देख रहे हैं और उस ऐड को देखने के बाद आप मार्केट में पहुंच जाते हैं और मार्केट में जाकर जिस चीज का ऐड आप देखे रहते हैं वह चीज दुकानदार से मांगने लगते हैं।

और दुकानदार से वह सामान लाकर आप यूज भी करने लगते हैं।

हमारे साथ टेलीग्राम पर जुड़ें

लेकिन क्या आप यह कभी सोचे हैं कि वह जो रिटेलर हैं वह उस समान को कहां से मंगवाया होगा?

तो मैं आप सभी को समझने के लिए बता दूं कि वह जो रिटेलर है वह उस सामान को होलसेलर से मंगवाता है।

आपके मन में यह सवाल आ रहा होगा कि जब वह सामान रिटेलर होलसेलर से मंगवाता है तो वह होलसेलर उस समान को कहां से मंगवाता है?

तो मैं आप सभी को यह भी बता दूं कि वह जो होलसेलर है वह अपना सामान डिस्ट्रीब्यूटर से मंगवाता है।

और वह जो डिस्ट्रीब्यूटर है वह सामान को मैन्युफैक्चरर से लेता है।

हमारे साथ टेलीग्राम पर जुड़ें

लोगों को उसके बारे में जानकारी हो इसके लिए कंपनी एक मार्केटिंग बजट तय करती है,

जिसके अनुसार वह कंपनी बड़े-बड़े होल्डिंग लगाती है और न्यूज़ पेपर में भी अपना ऐड देती है।

और टीवी में भी वही है दिखाए जाते हैं ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग उस प्रोडक्ट के बारे में जाने और ज्यादा से ज्यादा लोग उस प्रोडक्ट खरीदें।

इसके लिए वह कंपनी किसी बड़े एक्टर से संपर्क करती है जो कि उस एक्टर का चार्ज ज्यादा होता है।

यहां तक कि 10-10 करोड़ तक का चार्ज होता है पर कुछ लोग एनुअल चार्ज पर भी एडवर्टाइजमेंट कर देते हैं।

जो प्रोडक्ट का मैन्युफैक्चरिंग कॉस्ट होता है वह अगर ₹10 का कोई चीज कस्टमर खरीद रहा है तो उसका मैन्युफैक्चरिंग कॉस्ट सिर्फ ₹3 का ही होता है।

और बाकी का जो ₹7 है वह ₹7 होलसेलर, रिटेलर और एडवरटाइजमेंट कंपनी के बीच बट जाता है।

यह जो डिस्ट्रीब्यूशन मार्केट में होता है उसी को बचाकर नेटवर्क मार्केटिंग में मार्केटिंग प्लान तैयार किया जाता है जिसके अनुसार इंसेटिव का डिस्ट्रीब्यूशन किया जाता है।

नेटवर्क मार्केटिंग में जो प्रोडक्ट मैन्युफैक्चरर बनाता है उसको कस्टमर तक पहुंचा दिया जाता है।

और यहां पर क्या होता है कि कंजूमर ही इनका डिस्ट्रीब्यूटर होता है।

इसको मैं आप सभी को कुछ पैरामीटर के माध्यम से समझाना चाहूंगा,

जिससे आपको यह क्लीयरली समझ में आ जाएगा कि ट्रेडीशनल मार्केटिंग और डायरेक्ट सेलिंग में क्या अंतर है?

Parameter – 1. Transportation Charge

Traditional marketing (Very high)

Network marketing (Low)

तो मैं आप सभी को यह बता दूँ कि ट्रेडीशनल मार्केटिंग में जो ट्रांसपोर्टेशन चार्ज होता है वह चार्ज बहुत ही हाई होता है।

क्योंकि इसमें सबसे पहले इस प्रोडक्ट को मैन्युफैक्चरर डिस्ट्रीब्यूटर के पास भेजता है डिस्ट्रीब्यूटर होलसेलर के पास भेजता है।

लेकिन यही अगर बात किया जाए नेटवर्क मार्केटिंग का तो नेटवर्क मार्केटिंग प्रोडक्ट को सीधे मैन्युफैक्चरर से फ्रेंचाइजी या ऑनलाइन कस्टमर तक पहुंचा दिया जाता है।

Parameter 2. Quality

Traditional marketing (average)

Network marketing (Best)

ट्रेडिशनल मार्केटिंग में क्वालिटी एवरेज हो सकती है उसमें मिलावट भी हो सकता है,

क्योंकि कई तरह के लोगों के हाथों से होकर गुजरता है लेकिन जो नेटवर्क मार्केटिंग के प्रोडक्ट होता है वह सीधा मैन्युफैक्चरर से आता है।

इसलिए उसकी क्वालिटी बहुत ही अच्छी होती है इसकी संभावना बिल्कुल ना के बराबर होता है।

Parameter 3. Marketing budget

Traditional marketing ( very high )

Network marketing ( very low )

ट्रेडिशनल मार्केटिंग का मार्केटिंग बजट जो होता है वह बहुत ही हाई होता है।

लेकिन जो नेटवर्क मार्केटिंग का मार्केटिंग बजट होता है यह बहुत ही कम रहता है।

Parameter 4. Consumer benefit

Traditional marketing ( only product )

Network marketing ( product of incentive )

ट्रेडिशनल मार्केटिंग में केवल प्रोडक्ट का ही बेनिफिट होता है उसके बाद कस्टमर को कोई भी बेनिफिट नहीं मिलता है।

लेकिन नेटवर्क मार्केटिंग में कस्टमर को प्रोडक्ट के साथ-साथ बिजनेस अपॉर्चुनिटी भी मिलता है।

चलिए अब ये समझ लेते हैं कि नेटवर्क मार्केटिंग से कस्टमर को क्या बेनिफिट मिलता है?

Benefit of customer / distributor

1. Business set-up in low cost

अगर बात की जाए कि अगर आपको एक छोटा सा किराना का दुकान भी खोलना हो तब भी उसमें कम से कम ₹100000 तक खर्च करना पड़ेगा।

लेकिन बहुत कम खर्चे में लगभग 5 से 6000 के खर्चे में आप अपना खुद का डायरेक्ट सेलिंग बिजनेस शुरू कर सकते हैं।

2. Don’t depend on boss

इसमें आपका कोई भी बॉस नहीं होता है इसमें आपको किसी भी बॉस पर डिपेंड नहीं होना पड़ता है।

जब आपका मन चाहे तब आप लोगों को प्लान दे सकते हैं आप अगर प्लान देना सुबह में अच्छा समझें तो सुबह में दे सकते हैं।

या शाम को प्लान देना अच्छा समझें तो शाम को दे सकते हैं, क्योंकि यहां पर किसी भी तरह का कोई भी बॉस का प्रेशर आपके ऊपर नहीं रहता है।

3. Good personality development

नेटवर्क मार्केटिंग में आने के बाद जो पर्सनाल्टी है वह पर्सनाल्टी बहुत ही अच्छी हो जाती है।

क्योंकि यहां पर लोगों से बात करने से आपका जो सोशल स्किल है वह बिल्ड हो जाता है।

जो आपका कम्युनिकेशन स्किल है वह भी बहुत ही अच्छा हो जाता है और आप एक बहुत ही अच्छा पब्लिक स्पीकर बन जाते हैं पब्लिक स्पीकिंग आपको बहुत ही बेहतरीन आने लगता है।

4. Life time earning

नेटवर्क मार्केटिंग लेवरेज के सिद्धांत पर काम करता है।

Principal of leverage

नेटवर्क मार्केटिंग के शुरुआती दौर में तो आपको बहुत ही ज्यादा मेहनत करना पड़ता है,

क्योंकि टीम बनाने में थोड़ा बहुत कठिनाइयों का भी सामना करना पड़ता है।

लेकिन अगर एक बार आपका टीम बहुत अच्छा बन जाता है तो उसके बाद आपका टीम लेवरेज के सिद्धांत से बढ़ने लगता है।

और आपकी अर्निंग भी लेवरेज के सिद्धांत के अनुसार ही बढ़ती जाती है।

अगर आप एक बहुत ही अच्छे नेटवर्क मार्केटिंग में ज्वाइन हो जाते हैं और उसमें कम से कम 3 से 4 साल भी अच्छे से काम कर लेते हैं तो आपको पूरे लाइफ टाइम तक अर्निंग तो मिलता ही है।

लेकिन उसके साथ ही साथ आपका पर्सनाल्टी डेवलपमेंट भी बहुत ही ज्यादा बढ़ जाता है।

चलिए यह समझ लेते हैं कि नेटवर्क मार्केटिंग से गवर्नमेंट को क्या फायदा होता है।

What is benefit of government from network marketing

  1. इसमें क्या होता है कि जितने भी डिस्ट्रीब्यूटर होते हैं वो टैक्स देते हैं जिससे ज्यादा रेवेन्यू भारत सरकार को जाता है।
  2. जितने भी लोग नेटवर्क मार्केटिंग के साथ जुड़ जाते हैं उन लोगों को किसी भी नौकरी की जरूरत नहीं पड़ती है।

क्योंकि वह खुद एक रोजगार को उत्पन्न करते हैं जिससे कि देश बहुत ही मजबूत बनता है।

चलिए अब MLM के बारे में अच्छे से समझ लेते हैं की डायरेक्ट सेलिंग या नेटवर्क मार्केटिंग या मल्टी लेवल मार्केटिंग बनाने का उद्देश्य क्या था?

Objective of MLM

तो सबसे पहला उद्देश्य यह था कि लोगों को कम प्राइस पर प्रोडक्ट मिले।

दूसरा उद्देश्य यह था कि जो प्रोडक्ट है वह प्रोडक्ट जल्द से जल्द कंजूमर तक पहुंचे।

तीसरा उद्देश्य यह था कि उसका क्वालिटी बहुत ही बेहतरीन हो।

और चौथा उद्देश्य यह था कि इसमें लोग ही खुद इसका ब्रांड एमेस्टर होते हैं।

word-of-mouth के जरिए प्रोडक्ट का प्रचार करते हैं उन लोगों को इंसेंटिव भी मिलता है।

पांचवा उद्देश्य यह था कि एक अच्छा प्लेटफार्म बिल्ड करना है ताकि लोगों का पर्सनल ग्रोथ के साथ-साथ फाइनेंसियल ग्रोथ हो।

लोग सरकार के ऊपर डिपेंड ना रहे बल्कि वह लोग दूसरे लोगों को रोजगार दें।

मैं आप सभी को यह समझाना चाहूंगा कि आप एक अच्छे नेटवर्क मार्केटिंग कंपनी के साथ जुड़ें ये सबसे ज्यादा जरूरी है।

क्योंकि इससे आपको पर्सनल ग्रोथ में बहुत ही मदद मिलती है और आप उसमें रिजेक्शन को हैंडल करने के काबिल भी बन जाते हैं।

और आज के समय में तो हर इंसान की जिंदगी रिजेक्शन से ही भरी हुई है।

इसमें पर्सनाल्टी डेवलपमेंट बहुत अच्छा होता है इसमें आपकी पर्सनाल्टी की डेवलपमेंट हो जाती है और आपकी फाइनेंसियल ग्रोथ बहुत भी अच्छी हो जाती है।

यदि आप सभी को आज का हमारा यह लेख (Why Direct Selling and MLM started? डायरेक्ट सेल्लिंग और MLM की शुरुआत क्यूँ हुई आज यह जान लीजिये बहुत काम आएगा) पसंद आया हो तो कृपया करके आप सभी हमारे इस लेख को अपने टीम के हर मेंबर के साथ जरूर शेयर करें।

ताकि वह सभी लोग भी (Why Direct Selling and MLM started? डायरेक्ट सेल्लिंग और MLM की शुरुआत क्यूँ हुई आज यह जान लीजिये बहुत काम आएगा) के बारे में समझ सके और दूसरों को समझा सके।

आप और भी ऐसे बहुत सारे लेख पढने के लिए आप हमारी वेबसाइट www.networkmarketinghindi.com पर Visit कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें

आपका बहुत-बहुत धन्यवाद।

अपने नेटवर्क मार्केटिंग बिज़नेस को 10 गुना रफ़्तार से बढाने के लिए हमारे साथ जुड़िये

नेटवर्क मार्केटिंग हिंदी VIP कम्युनिटी
टेलीग्राम चैनल
ज्वाइन करें
नेटवर्क मार्केटिंग हिंदी
टेलीग्राम ग्रुप डिस्कशन
ज्वाइन करें
नेटवर्क मार्केटिंग हिंदी फेसबुक पेज फॉलो करें
नेटवर्क मार्केटिंग हिंदी फेसबुक ग्रुपज्वाइन करें

Angesh Kumar Gond | Blogger | YouTuber, Hello Guys, मेरा नाम अंगेश कुमार गोंड हैं । मैं एक ब्लॉगर और youtuber हूं । मेरा दो YouTube चैनल है । एक Angesh Kumar Gond जिस पर एक लाख से अधिक सब्सक्राइबर हैं और दूसरा AG Digital World यह मेरा एक नया चैनल है जिस पर मैं लोगों को ब्लॉगिंग और यूट्यूब के बारे में सिखाता हूं, कि कैसे कोई व्यक्ति जीरो से शुरुआत करके एक अच्छा खासा यूट्यूब चैनल और वेबसाइट बना सकता है । Thanks.

Leave a Comment