Story of Failure of great man, who achieve success after failure.

Network Marketing in Hindi

Story of Failure of great man, who achieve success after failure.

Story of Failure of great man, who achieve success after failure. ( महापुरुषों की असफलता की कहानी जिन्होंने असफलता के बाद सफलता हासिल की। )

Story of Failure of great man, आज हम आप सभी को उन महापुरुषों की फेलियर के बारे में बताएंगे जिन्होंने असफलता के बाद सफलता हासिल की है तो इस लेख को शुरू से लेकर लास्ट तक जरूर पढ़ें –

Story of Failure of great man, who achieve success after failure
Story of Failure of great man


हेलो दोस्तों यदि आप सभी को सक्सेसफुल व्यक्ति बनना है तो फैलियर स्टोरी पढ़ना शुरू कर दें, क्योंकि सक्सेस स्टोरी हमें हमेशा अच्छे और सफल छणों के बारे में बताएगी , लेकिन फैलियर स्टोरी यह आपको बताएगी आप किधर गलतियां कर रहे हैं।

इसीलिए फैलियर स्टोरी पढ़ना और सीखना सबसे ज्यादा इंपोर्टेंट है, कोई भी काम आप जब शुरू करते हैं तो उस काम में फेल होने की बहुत सारे चांसेस होते हैं, पर इसका मतलब यह नहीं है कि आपने दो से तीन बार ट्राई किया और छोड़ दिया। अगर आप कुछ करते समय फेल हो जाते हैं तो फेलियर आपको आपकी मंजिल के करीब लेकर जाता है।

‘ जी हां ‘ आपको नई चीजें सिखाता है उस काम को करने के लिए नए तरीके ढूंढने को आपका दिमाग मजबूर कर देता है। तो इन सभी रीजन की वजह से आप के जीवन में फैलियर बहुत जरूरी है और किसी ने सच ही कहा है – ” गिरकर उठना उठकर चलना, यही क्रम है संसार का, कर्मवीर को फर्क न पड़ता, क्षणिक जीत या हार का, यह क्रम है संसार का। “ तो चलिए अब हम यह जानते हैं कि उन महापुरुषों के बारे में जिन्होंने असफलता के बाद सफलता हासिल की हैं ।

Story of Failure of great man, who achieve success after failure
Story of Failure of great man

Abraham Lincoln ( अब्राहम लिंकन )

अब्राहम लिंकन के बारे में बताने से पहले मैं उन सभी को कहना चाहूंगा जिनको लगता है शायद बहुत अच्छी डिग्री और पढ़ाई के बाद लाइव सेट हो जाती है क्योंकि अब्राहम लिंकन ने अपनी पूरी जिंदगी में 5 साल से ज्यादा पढ़ाई नहीं किया है और वह जब बड़े हुए तो उन्होंने राजनीति में शामिल हुए।

Advertisement

संयुक्त राष्ट्र अमेरिका के वह 16वे राष्ट्रपति बने, उसके पहले अपनी जिंदगी में 12 बार असफल हुए यानी कि उन्हें फेलियर का सामना करना पड़ा इतने सारे फेलियर के बाद भी वह डटे रहे और इस कारण से उनका नाम इतिहास के इंपॉर्टेंट लोगों के लिस्ट में लिया जाता है। इसी लिए कभी भी फेलियर से डरना नहीं चाहिए ।

Thomas Alva Edison ( थॉमस अल्वा एडीसन )

थॉमस अल्वा एडिसन का नाम सुनते ही दिमाग की बत्ती जल जाती है क्योंकि थॉमस अल्वा एडिसन ने बहुत सारे अंतरों को विकसित किया हैं, जिनका 20वी सदी के जीवन पर बहुत ही ज्यादा प्रभाव पड़ा, थॉमस अल्वा एडिसन को इतिहास का फलदायक अविष्कार कहा जाता है। जिनके नाम अविष्कार करने के 1,093 US अधिकार थे।

जब थॉमस अल्वा एडिसन बच्चे थे तो उनके टीचर ने कहा था कि थॉमस बहुत ही बुद्धू है क्योकि कुछ भी सीखने या पढ़ने में मन नहीं लगता था, फिर वह जब बड़े हुए तो एक सफल लाइट बल्ब बनाने से पहले, वह हजारों बार से ज्यादा बार फेल हुए । एसी लिए कहा जाता हैं कि कभी भी हिम्मत नहीं हराना चाहिए ।

Winston Churchill ( विंस्टन चर्चिल )

Winston Churchill क्लास 6 में फेल हो गए लेकिन कठिन परिश्रम करना उन्होंने कभी नहीं छोड़ा, और लगातार ट्राई करते रहे और सेकंड वर्ल्ड वार के दौरान यूनाइटेड किंगडम का प्रधानमंत्री बने। विंस्टन चर्चिल साधारणतह इतिहास के इंपॉर्टेंट नेता थे, बीबीसी की 2002 के चुनाव में जिसमें 100 महान ब्रिटिश लोगो का चुनाव होना था।

उसमें सभी ने उन्हें सबसे ज्यादा इंपोर्टेंट दिया। इसी लिए कहा जाता है कि परिश्रम ही सफलता कि कुंजी है, लगातार मेहनत करते रहना चाहिए क्योंकि ” सफलता एक दिन में नहीं मिलती हैं, लेकिन एक दिन जरुर मिलती हैं “।

Advertisement

Henry Ford ( हेनरी फ़ोर्ड )

Henery Ford अमिरिका के प्रसिद्ध उद्योगपति थे, उने द्वरा पहली दो मोटर गाड़ी फेल हो गई, लेकिन उन्होंने कंपनी स्थापित करना नहीं छोड़ा, कठिन परिश्रम के बाद उनकी फोर्ड मोटर कंपनी पहली प्रचलित और वाहन करने योग्य की पद पर कार बनाने वाली कंपनी बनी ।

कंपनी सिर्फ यूनाइटेड यूरोप में ही नहीं बल्कि 20वी सदी में आर्थिक क्षेत्र में भी और समाज क्षेत्र में भी प्रचलित हो गया। उन्होंने हल्की और सस्ती कार का निर्माण किया जिस से आम लोगो के लिए सुलभ कराया, आज उनको कार का पितामह भी कहा जाता हैं , उन्होंने भी फेलियर से हार नहीं मानी ।

Soichiro Honda ( सोइचिरो होंडा )

Soichiro Honda को सेकंड वर्ल्ड वार के दौरान टोयोटा मोटर कारपोरेशन के साथ बिज़नेस संभालना में असफलता मिली थी । उन्होंने अपनी जीवन कि शुरुआत पुरानी टूटी या ख़राब हुई साइकिल को खरीदते थे और उन्हें ठीक कर के बेचते थे। वह जब तक जॉब्लेस थे उनके पड़ोसी उनके द्वारा बनाई गई स्कूटी नहीं खरीदी,

उन्होंने खुद के घर में खुद का बिजनेस ही शुरू कर डाली, जिसका नाम होंडा है। आज के दुनिया के सबसे ज्यादा वाहन निर्माण करने वाली और सबसे ज्यादा मुनाफा कमाने वाली कंपनी में से एक हैं। उन्हें भी पहले अपने जीवन में फेलियर का सामना करना पड़ा और आज वह सफल हैं ।

Bill Gates ( बिल गेट्स )

बिल गेट्स के बारे में हम सब जानते हैं की बिल गेट्स माइक्रोसॉफ्ट के संस्थापक हैं और अध्यक्ष हैं। 12वी सदी में कंप्यूटर की क्रांति लाने में श्रेय उनको और उन के माइक्रोसॉफ्ट को दिया जाता है। उन्होंने कंप्यूटर और कंप्यूटर से जुड़ी हमारी जिंदगी को पूरी तरीके से बदल दिया है, सब जानते हैं कि एक दशक से ज्यादा दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति रह चुके हैं।

Advertisement

लेकिन बहुत कम लोग यह जानते हैं कि 1970 के पहले दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति रह चुके हैं। लेकिन बहुत कम लोग यह जानते हैं कि 1970 के पहले अपना बिजनेस शुरु करने से पहले हावर्ड यूनिवर्सिटी से ड्रॉपआउट हो चुके थे। इतना ही नहीं माइक्रोसॉफ्ट से पहले ड्राइव फ्रंट डाटा नामक अपने कंपनी के बिजनेस में भी फैलियर का सामना करना पड़ा,

पर वह अपने फेलियर पर रुके नहीं और वह आगे जाकर उन्होंने माइक्रोसॉफ्ट के जरिए उन्होंने दुनिया ही बदल दी । 1987 में, बिल गेट्स को फोर्ब्स पत्रिका के अमेरिका के 400 सबसे अमीर लोगों में, एक अरबपति के रूप में सूचीबद्ध किया गया था।

Isaac Newton ( आइजैक न्यूटन )

Isaac Newton उस समय के बहुत ही बड़े अंग्रेजी गणित के जानकार थे, उनके प्रकाश विज्ञान और ग्रेविटेशन के अविष्कार ने उन्हें दुनिया भर में पहचान दिलाई और महान साइंटिस्ट भी बनाई। बहुत लोगों को ऐसा लगता है कि Isaac बचपन से ही बहुत ही इंटेलिजेंट थे लेकिन ऐसा बिल्कुल नहीं है।

वह अपने स्कूल से भी खुश नहीं थे और उनके टीचर उन को बेवकूफ समझते थे और कई बार उनको स्कूल से बाहर निकाल दिया जाता था पर बचपन से ही उन्हें गणित विषय में बहुत ही ज्यादा रुचि था इसी के कारण उन्होंने आगे जाकर साइंस में कुछ बहुत इंपोर्टेंट चीजों पर काम किया और नए कंसेप्ट के बेस पर आगे चलकर एक महान साइंटिस्ट बने।

इसी लिए कहाँ जाता है कि जीवन में एक सटीक Goal होना चाहिए जिस पर पूरी मेहनत के साथ कम करना चाहिए, जिस से कामयाबी निश्चित हो जाती है। जिनका Goal नहीं होता है कि हमें करना क्या है तो वह अपने जीवन में कुछ भी नहीं कर पाते हैं इसी लिए लाइफ ले Goal का होना बहुत जरुरी है।

Advertisement

Walt Disney ( वाल्ट डिज्नी )

Walt Disney एक अमेरिकन सिनेमा के डायरेक्टर, प्रोड्यूसर सिनेमा लेखक और कार्टून फिल्म बनाने वाले दिग्दर्शक थे। उन्होंने दुनिया की सबसे बड़ी कंपनी Disney की स्थापना की और इसकी स्थापना Walt Disney कंपनी के नाम से जानी जाती है जो कि साल में 30 बिलियन का राजस्व बनता है।

वाल्ट डिज्नी खुद का पहला बिजनेस अपने घर से ही किया और उनके द्वारा बनाया गया पहला कार्टून फेल हो गया। उनके पहले प्रत्रकार सम्मेलन में एक अखबार के संपादक ने उनका उपहास भी किया क्योंकि उनके पास एक अच्छी सिनेमा बनाने की कल्पना नहीं थी। आज वाल्ट डिजनी कार्टून का दुनिया में सबसे बड़ा नाम है ।

कई पीढ़ियों ने वाल्ट डिजनी के द्वारा बनाए गए कार्टून देख कर अपना बचपन गुजारा है। फैलियर से सक्सेस तक का वाल्ट डिजनी का यह सफर बहुत ही इंप्रेस नल है। उन्हें भी अपने जीवन में फेलियर का सामना करना पड़ा फिर वह कजाकर कामयाब हुए।

Albert Einstein ( अल्बर्ट आइंस्टीन )

Albert Einstein सिद्धांतीक और भौतिक शास्त्री थे, उन्हें बीसवीं सदी में सबसे ज्यादा महत्व दिया जाता था। 1921 में उन्हें फोटो इलेक्ट्रॉनिक प्रभाव स्पष्टी करण के लिए तांत्रिक भौतिक विज्ञान में उनकी सेवा के लिए नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया, पर यह सब अचीव करने से पहले जब अलवर स्टैंड जवान थे तब,

उनके माता-पिता यह समझते थे कि दिमाग से वो थोड़ा कमजोर है। उनके स्कूल में ग्रेड भी बहुत कम आते थे इसलिए उनकी टीचर ने उन्हें स्कूल छोड़ देने के लिए कह दिया था और कहते थे तुम कभी भी किसी कीमत पर कुछ भी नहीं कर सकते, उन्होंने क्या किया और वह कहां पहुंचे आपको पता चल ही गया है।

Advertisement

इसलिए आपके आसपास के लोग आपके उत्साह भंग करने के लिए पूरी कोशिश करेंगे और बहुत कुछ बोलेंगे शायद इससे भी ज्यादा इन सब बातों से सबसे ज्यादा इंपोर्टेंट है कि आप नकारात्मक से कैसे ऊपर उठते हैं। अल्बर्ट आइंस्टाइन एसे एग्जांपल हैं जिनके द्वारा हमें यह सीखने को मिलता है कि,

आपका बचपन कैसा था इससे आपका जीवन तय नहीं होता है आप आगे क्या करेगे यह यह बहुत ही इम्पोर्टेंट है। आप चाहे तो दुनिया के सर्वश्रेष्ठ पुरस्कार नोबेल भी, आप अपने बलबूते पर प्राप्त कर सकते हैं इसके लिए आप को लगातार मेहनत करनी होती है ।

हेल्लो दोस्तों इतने सारे फेलियर से कोई Successful बन सकता हैं, तो आप क्यों नहीं? एक Successful व्यक्ति बन सकते हैं। इसके लिए आप को भी लगातार मेहनत करनी पड़ेगी, आप भी Successful व्यक्ति बन सकते हैं ।

अगर आप सभी को यह Story of Failure of great man स्टोरी अच्छी लगी हैं तो अपने दोस्तों के साथ शेयर करें, आप सभी को बहुत बहुत धन्यवाद ।

इसे भी पढ़ें :- Top 10 Indian YouTubers 2021 Top Indian Youtubers Net Worth

Advertisement

The secret of success in network marketing. नेटवर्क मार्केटिंग में सफलता का रहस्य

What is Domain name in Hindi डोमेन Name क्या होता है ?

Direct Selling 2021 में मोबाइल से घर बैठे लाखों लोगों की ज्वाइनिंग कैसे करें | Digital Network Marketing Tips

Please Share This

Leave a Comment