Rabbits and Foxes of Direct Selling डायरेक्ट सेल्लिंग के खरगोश और लोमड़ी

Rabbits and Foxes of Direct Selling. आज के इस लेख में मैं आप सभी को MLM के बारे में एक बहुत ही महत्वपूर्ण बातें बताऊंगा, इसको मैं आप सभी को एक कहानी के माध्यम से समझाना चाहूंगा।

यह कहानी एक खरगोश और एक लोमड़ी की है, एक दिन क्या हुआ की एक लोमड़ी जंगल में अपने खाने की तलाश में जब निकली तो उसको एक खरगोश नजर आया और जो वह खरगोश बैठा था उसको एहसास होने लगा कि कोई मेरे पीछे आ रहा है।

जब पीछे देखा तो उस लोमड़ी को देखा जो उसके तरफ आ रही थी तब वह खरगोश भागना शुरू कर दिया।

वह खरगोश यह समझ गया कि आज मेरी जिंदगी पूरी तरह से खत्म हो जाएगी और वह खरगोश भागने लगा।

और जब वह खरगोश भागना शुरू कर दिया तो लोमड़ी देख लेती है कि यह खरगोश तो मुझे देख कर भाग रहा है।

उस लोमड़ी को तो खाने की तलाश थी इसलिए वह लोमड़ी खरगोश के पीछा करने लगी।

हमारे साथ टेलीग्राम पर जुड़ें

Rabbits and Foxes of Direct Selling-min

खरगोश भागने लगा और लोमड़ी इसका पीछा करने लगी खरगोश अपना जान बचाने के लिए भाग रहा था और लोमड़ी उसको अपना शिकार बनाने के लिए उसका पीछा कर रही थी।

इससे पहले कि वह लोमड़ी खरगोश को अपना शिकार बनाती लोमड़ी के मुंह में वह खरगोश आने वाला ही था,

तभी अचानक खरगोश को एक बिल नजर आ गया और वह खरगोश उस बिल में चला गया।

तब लोमड़ी पछताने लगी वह यह सोचने लगी कि आज यह खरगोश मेरा शिकार होते-होते बच गया।

लेकिन वह लोमड़ी यह देखी थी कि खरगोश किस बिल में गया है।

इसलिए वह लोमड़ी यह सोचने लगती है कि इधर-उधर भटकने से अच्छा है कि इस बिल से इस खरगोश को बाहर निकाल लूं और खरगोश को बाहर निकालने के लिए उसके पास शर्त यह था कि मिट्टी को बाहर निकालना पड़ता।

हमारे साथ टेलीग्राम पर जुड़ें

उसके बाद वह लोमड़ी उस खरगोश को अपना शिकार बना पाती।

तो वह लोमड़ी अकेले उस मिट्टी को खोदना शुरू कर दी और जब उस लोमड़ी के आसपास से कुछ लोमड़ीया गुजर रही थी तो वह लोमड़ी उस लोमड़ी से पूछने लगी कि तुम यहां पर क्या कर रही हो ?

तब वह लोमड़ी उन सारी लोमड़ी से बताने लगती है कि यहां पर एक खरगोश है, इधर उधर जाने की कोई भी जरूरत नहीं है तुम लोग आओ मेरा साथ दो।

मिलकर इस मिट्टी को बाहर निकालते हैं और उस खरगोश को अपना शिकार बनाते हैं।

तो इतना सुनकर वह सारी लोमड़ी भी खुश हो जाती है और मिट्टी खोदना शुरू कर देती है।

हमारे साथ टेलीग्राम पर जुड़ें

उसके बाद कुछ और लोमड़ी भी उसके साथ मिलकर मिट्टी खोदने लगती हैं।

लेकिन कुछ देर के बाद जब वहां पर कुछ दिखाई नहीं देता है तो बाकी के जो लोमड़ी थी, वह यह सोचने लगती है कि यहां पर कुछ तो गड़बड़ है यह हम लोगों को धोखा दे रही है यह हम लोगों को मूर्ख बना रही है ?

यह सोचकर वह जितने भी लोमड़ी उसके साथ मिट्टी खोद रही थी वह उसको अकेले छोड़ कर चली जाती है।

लेकिन वह जो लोमड़ी थी वो देखी थी कि खरगोश इसी बिल में गया है।

वह उस मिट्टी को खोदते रही वह लगी रही और कुछ देर बाद 2 से 3 और लोमड़ी को लेकर आती है।

और बताती है कि इस बिल में खरगोश है तुम लोग आओ मेरा साथ दो इसमें से खरगोश निकलेगा तब हम लोग मिलकर उसे खा लेंगे।

तो वह लोमड़ी भी उसकी बात सुनकर आ जाती हैं सब और आकर मिट्टी खोलने लगती हैं,

लेकिन कुछ देर के बाद जब उन सब को भी कुछ दिखाई नहीं दिया तो वह यह वहां से उस लोमड़ी को अकेले छोड़ कर चली जाती है।

सब यह बोलने लगती है सब यह लोमड़ी तो हम लोग को मूर्ख बना रही है हम लोग का टाइम बर्बाद कर रही है।

लेकिन वह लोमड़ी अकेली रहती है और मिट्टी खोदते रहती है वह हार नहीं मानती है।

क्योंकि वह लोमड़ी देखी होती है कि वह खरगोश इसी बिल में गया है।

और मिट्टी खोदते खोदते वह लोमड़ी खरगोश तक पहुंच जाते हैं और उसको अपना भोजन बना लेती है और वह एकदम संतुष्ट हो जाती है।

तो इस कहानी के माध्यम से मैं आप सभी को यही समझाना चाह रहा हूं कि बहुत लोग ऐसे हैं जो नेटवर्क मार्केटिंग को ज्वाइन करते हैं और ज्वाइन करने के बाद काम करना शुरू कर देते हैं।

लेकिन 1 से 2 महीने में वह शक करने लगते हैं कि इस इंडस्ट्री में तो कुछ भी नहीं है।

वह लोग यह बोलने लगते हैं कि इसमें टाइम बर्बाद हो रहा है अप लाइन झूठ मुठ में हम लोग से काम करवा रही है।

यह हम लोगों का यूज कर रही है।

अब यहां पर बात यह आता है कि आखिर इस इंडस्ट्री में रुकता कौन है ?

तो इस इंडस्ट्री में रुकता वही है जिसने यह देखा है कि इस इंडस्ट्री में कामयाबी है।

इस इंडस्ट्री के अंदर रूकता वही है जिसने यह महसूस किया होता है कि इस इंडस्ट्री के अंदर वाकई में जिंदगी बदलती है।

तो मैं आपसे यही कहना चाहूंगा कि अगर आप देखे हैं नेटवर्क मार्केटिंग में किसी को कामयाब होते हुए, अगर वाकई में आप यह महसूस किए हैं कि नेटवर्क मार्केटिंग में लोगों की जिंदगी बदलती है तो आप इस इंडस्ट्री के अंदर रुके रहिए लोग ख़ाक से उठकर इस इंडस्ट्री के अंदर करोड़पति बनते हैं।

अगर कहीं पॉसिबल है तो सिर्फ नेटवर्क मार्केटिंग के अंदर ही पॉसिबल है।

इसलिए मैं आप सभी से यही कहूंगा कि आप उन भागने वाले लोगों के जैसे मत होइए।

आप इस इंडस्ट्री में रुके रहिए क्योंकि इस इंडस्ट्री में सब कुछ है।

क्योंकि नेटवर्क मार्केटिंग के अंदर सफल होने का कई रास्ते हो सकते हैं।

इस इंडस्ट्री के अंदर बहुत सारे ट्रेनर हैं अलग-अलग रास्ते हो सकते हैं कामयाब होने का सबका अलग अलग रास्ते हो सकते हैं।

लेकिन फेल होने का सिर्फ एक ही रास्ता है और वह रास्ता है इस इंडस्ट्री को छोड़ देने का।

अगर आप नेटवर्क मार्केटिंग इंडस्ट्री के अंदर कामयाब होना चाहते हैं तो आप बने रहिए लगातार काम करते रहिए आपका जितना सुनिश्चित है।

यदि आप सभी को आज का हमारा यह लेख (Rabbits and Foxes of Direct Selling डायरेक्ट सेल्लिंग के खरगोश और लोमड़ी) पसंद आया हो तो कृपया करके आप सभी हमारे इस लेख को अपने टीम के हर मेंबर के साथ जरूर शेयर करें।

ताकि वह सभी लोग भी (Rabbits and Foxes of Direct Selling डायरेक्ट सेल्लिंग के खरगोश और लोमड़ी) के बारे में समझ सके और दूसरों को समझा सके।

आप और भी ऐसे बहुत सारे लेख पढने के लिए आप हमारी वेबसाइट www.networkmarketinghindi.com पर Visit कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें

आपका बहुत-बहुत धन्यवाद।

अपने नेटवर्क मार्केटिंग बिज़नेस को 10 गुना रफ़्तार से बढाने के लिए हमारे साथ जुड़िये

नेटवर्क मार्केटिंग हिंदी VIP कम्युनिटी
टेलीग्राम चैनल
ज्वाइन करें
नेटवर्क मार्केटिंग हिंदी
टेलीग्राम ग्रुप डिस्कशन
ज्वाइन करें
नेटवर्क मार्केटिंग हिंदी फेसबुक पेज फॉलो करें
नेटवर्क मार्केटिंग हिंदी फेसबुक ग्रुपज्वाइन करें

Angesh Kumar Gond | Blogger | YouTuber, Hello Guys, मेरा नाम अंगेश कुमार गोंड हैं । मैं एक ब्लॉगर और youtuber हूं । मेरा दो YouTube चैनल है । एक Angesh Kumar Gond जिस पर एक लाख से अधिक सब्सक्राइबर हैं और दूसरा AG Digital World यह मेरा एक नया चैनल है जिस पर मैं लोगों को ब्लॉगिंग और यूट्यूब के बारे में सिखाता हूं, कि कैसे कोई व्यक्ति जीरो से शुरुआत करके एक अच्छा खासा यूट्यूब चैनल और वेबसाइट बना सकता है । Thanks.

Leave a Comment