नेटवर्क मार्केटिंग: बिज़नस प्लान देखने के बाद जब गेस्ट बोले यह जोड़ने वाला काम है मैं नहीं करूँगा तो तुरंत यह काम कीजिये

नेटवर्क मार्केटिंग: बिज़नस प्लान देखने के बाद जब गेस्ट बोले यह जोड़ने वाला काम है “मैं नहीं करूँगा” तो आप अपने गेस्ट से कुछ इस तरीके से बात करें।

सबसे पहले यह बोलना है कि मुझे आपसे कुछ बात करनी है, अभी कुछ दिन पहले आपसे कोई डायरेक्ट सेलिंग का प्लान दिखाया था तब आप उनसे क्या बोले थे।

आप बोले थे कि यह जोड़ने का काम है इसे मैं नहीं कर सकता हूं।

यह जोड़ने वाला काम है मैं नहीं करूँगा

अगर इस दुनिया में सच में कुछ अच्छा करना है तो जोड़ना होगा कि तोड़ना होगा? ध्यान से सोचिए और जवाब दीजिए अगर आपको कुछ भी अच्छा करना है तो आप क्या करते हैं?

मान लीजिए घर बनाना होता है तो उसमें इंटो को जोड़ना पड़ता है की तोड़ना पड़ता है।

हमारे साथ टेलीग्राम पर जुड़ें

इस दुनिया के अंदर अगर कोई भी काम बहुत ही अच्छा करना होता है तो उस में जोड़ने का काम होता है तोड़ने का नहीं।

जब नेटवर्क मार्केटिंग में जोड़ने की बात होती है तो आप इससे डरते हैं। आप इसलिए डरते हैं कि अगर मैं लोगों को जोड़ दूंगा तो लोगों का संबंध टूट जाएगा, अगर मैं लोगों को किसी कंपनी से या किसी विचारधारा से जोड़ दूंगा तो लोग तो जुड़ जाएंगे लेकिन हमारे रिश्ते टूट जाएंगे, कई लोगों को ऐसा ही लगता है।

नेटवर्क मार्केटिंग बिज़नस प्लान देखने के बाद जब गेस्ट बोले यह जोड़ने वाला काम है

मानके चलिए की आप सही सोच रहे हैं, अगर कोई भी चीज जो ₹20 ₹30 की है तो अगर आप उस चीज के बदले में 3000 , 4000 रुपए लेते हैं और अगर आपके कहने से कोई दे भी देता है तो हो सकता है कि आपकी और उनके बीच रिश्ते वैसे ना रहे।

क्योंकि ₹30 के चीज को आपके कहने से वह सामने वाला व्यक्ति ₹3000 दे देता है, लेकिन कोई भी चीज ₹10 , ₹20 की होती है और उसके बदले ₹40 या ₹50 मांगते हैं और उसे सामने वाला दे भी देता है और उसको वह चीज अच्छा लगता है, वह उसे सेटिस्फाइड भी है तो इससे आपके रिश्ते और ही अच्छा होगा ना कि टूटेगा।

एक बात ध्यान से समझिए की जोड़ने का मतलब यह नहीं होता है कि आपको कुछ ऐसा करना है कि जो लोगों के फेवर में ना हो।

आपको कुछ ऐसा नहीं करना है, जिसमें सिर्फ आपका फायदा हो।

हमारे साथ टेलीग्राम पर जुड़ें

जोड़ने का मतलब यह होता है कि आप कुछ ऐसा कर रहे हैं की जिसमें लोगों का भी फायदा है, जिसे लोग सेटिस्फाइड हैं।

जबरजस्ती न जोड़ें

अगर किसी चीज से सेटिस्फाइड नहीं है और उस चीजों से लोगों को अगर जबरदस्ती जोड़ा जाए तो डेफिनेटली संबंध तो टूटेंगे ही।

लेकिन कुछ ऐसा है जो लोगों के बेनिफिट में है जिससे लोगों का प्रॉब्लम सॉल्व होता है, तब आप उनको कुछ ऐसा खरीदने के लिए कहते हैं और उससे उनको जिंदगी में कुछ बड़ा करने का मौका मिलता है तो यह जोड़ना कैसे हुआ।

हर कोई इस दुनिया में कहीं ना कहीं जुड़ा ही है

फेसबुक ने क्या किया ,इंस्टाग्राम ने क्या किया यानी कि सारे सोशल मीडिया ने यही किया।

आप खुद देखिए और सोचिए दुनिया में हर कोई एक दूसरे को जोड़ ही रहे हैं और जोड़-जोड़ कर ही पैसा कमा रहे हैं।

हमारे साथ टेलीग्राम पर जुड़ें

फेसबुक ने आज के समय में अरबो लोगों को एक साथ जोड़ दिया है और इससे वह पैसा कमा रहा है।

अब चाहे इंस्टाग्राम हो या shaadi.com यह सब जोड़ने का ही तो काम कर रहे हैं।

तो जोड़ने वाले अच्छा ही कर रहे हैं। लेकिन कहीं ना कहीं हम लोग अगर लोगों को नहीं जोड़ रहे हैं तो जो लोग जोड़ रहे हैं, उनके तो पार्ट हैं हमलोग।

क्योंकि उनका मदद तो जरूर कर रहे हैं।

भले ही आप लोगों को ना जोड़ें, लोगों की टीम ना बनाएं, लेकिन मार्क जुकरबर्ग की एक टीम है, “फेसबुक” उसके हम हिस्से तो हैं।

आप इंस्टाग्राम के भी हिस्सा है यानी कि सोशल मीडिया के हिस्सा ही हैं ।

डेफिनेटली आप टीम बनाएं या ना बनाएं लेकिन किसी के ना किसी के टीम के हिस्सा बनकर जरूर काम कर रहे हैं।

जिंदगी में दो तरीके से काम होता है, एक अकेले में और एक लोगों के साथ मिलकर।

या तो इंडिविजुअल काम कीजिए या तो टीम वर्क के साथ कम कीजिए।

आप खुद सोचिए कि अगर जिंदगी में कुछ बड़ा हासिल करना है तो इंडिविजुअली काम करना चाहिए की टीम वर्क के साथ काम करना चाहिए।

थोड़ा ध्यान से समझिए, अगर आप अकेले काम करेंगे तो आपको उतना ही पैसा मिलेगा जितना आपका टैलेंट है, लेकिन आपके साथ 40 लोग या 50 लोग काम करते हैं तो डेफिनेटली आपको उतना पैसा मिल सकता है जितना उन लोगों में टैलेंट है।

नेटवर्क मार्केटिंग या डायरेक्ट सेलिंग एक ऐसी इंडस्ट्री है जहां आपको सिर्फ अपने काम का फायदा नहीं मिलता बल्कि दूसरों के काम का भी फायदा मिलता है।

लेकिन अगर आपको डर लग रहा है या आप जोड़ना नहीं चाहते हैं तो क्या बिना जुड़े आपकी जिंदगी चल सकते हैं क्या?

क्या आपको ऐसा लगता है कि जब से आप पैदा हुए हैं तब से लेकर अभी तक के जिंदगी में क्या आप किसी को नहीं जोड़े हैं?

क्या आपने अभी तक किसी को दोस्त नहीं बनाया है या कोई रिश्ता नहीं हुआ है?

क्या आपको ऐसा लगता है कि जितने भी दुकानों से आप सामान की खरीदारी करते हैं वहां से आपको कोई रिश्ता ना बना हो?

आपने कई लोगों को जोड़ें हैं, डेफिनेटली वहां एक ऐसा सिस्टम नहीं था कि वहां पर लोग एक दूसरे के साथ जुड़े और उससे एक दूसरे को फायदा हो ऐसा कोई सिस्टम नहीं था।

लेकिन आज आपको एक ऐसा सिस्टम मिला है, जहां पर लोग एक दूसरे के साथ जुड़ सकते हैं।

जहां लोगों को जुड़ने से एक दूसरे को एक दूसरे से फायदा हो रहा है। यह सिस्टम पहले वहां पर नहीं था लेकिन आज यहां पर है।

और आप इससे डरते हैं, आपको यह लगता है कि कहीं मैं गलत तो नहीं कर रहा हूं अगर आपको यह लगता है कि कहीं मैं अपने फायदे के लिए लोगों को तो नहीं जोड़ रहा हूं ।

तो यहां पर आपको एक बात समझना होगा कि क्या आपको ऐसा लगता है कि आपके सगे संबंधी मतलब आपके दोस्त या आपके जानने पहचानने वाले जितने भी लोग हैं, उनके पास वह सब कुछ है जो वह सच में पाना चाहते हैं।

क्या आपको ऐसा नहीं लगता कि उनके पास भी वह सारी चीज है, जो अभी नहीं है? क्या आपको ऐसा लगता है कि उनके जीवन में अब पैसों की कोई जरूरत नहीं है और उनको अब कुछ भी करने की आवश्यकता ही नहीं है?

अगर आपको ऐसा लगता है तो डेफिनेटली आप को जोड़ने की आवश्यकता नहीं है।

क्योंकि जोड़ने का मतलब सिर्फ अपने फायदे के लिए नहीं होता है।

जोड़ने का मतलब होता है कि लोगों की मदद करना, जोड़ने का मतलब होता है कि जो सपने उनको लगता है कि कभी पूरे नहीं होंगे उस सपनों तक उनको पहुंचाने में मदद करना।

जुड़ना खराब कब है, समाज को तोड़ने वाले समाज को लीड करें वह बढ़िया है?

और समाज को जोड़ने वालो को गाली दिया जाए और सिर्फ इस बात पर की जोड़ना है।

किसी चीज को नकार दिया जाए यह सही है, समाज को तोड़कर आज के जमाने में लोग ना जाने क्या से क्या कर रहे हैं।

लेकिन आपको यह बात पता है कि एक सिस्टम है जो देश को चलाता है और वहां जो कुछ लोग होते हैं वह लोग तोड़ने का ही काम करते है, ढूंढने का काम तो बहुत कम करते हैं।

लेकिन एक नेटवर्कर को देखिए, यह एक ऐसे लोग हैं जो लोगों को जोड़ने का काम करते हैं। जहां पर कोई जाति या कोई धर्म नहीं देखी जाती।

वहां पर कोई भी भेदभाव नहीं होता है, जहां पर हर तरह के लोगों को एक साथ जोड़ कर उन को आगे बढ़ाया जाता है तो यह काम कहां से गलत है।

क्या आप अपनी जिंदगी में अपने और अपने परिवार का ही मदद करना चाहते हैं या फिर और लोगों का भी मदद करना चाहते हैं।

अब यहां पर दूसरी बात यह आती है कि अगर आप लोगों की मदद करना चाहते हैं तो आपके पास क्या है? जिससे आप सच में किसी की मदद कर पाए और क्या आपको ऐसा नहीं लगता है कि पैसा वाकई में हर समस्या की जड़ है।

अगर आज किसी परिवार को कोई समस्या है तो क्या आपको ऐसा नहीं लगता है कि उस समस्या के पीछे कहीं ना कहीं पैसा का ही कारण है।

आप इस बात को दोबारा सोचिए कि आप जोड़ने में डरते क्यों है?

मैं आपसे एक बात कहना चाहूंगा कि आप किसी भी ऐसी चीज से ना खुद जुड़िए ना किसी दूसरे को जोड़िए जिससे आपका मन ना खुश है।

लेकिन अगर आपको ऐसा लगता है कि कुछ ऐसा है, जिससे मैं खुश हूं तो डेफिनेटली आपको और लोगों को भी जोड़ना चाहिए।

लेकिन अगर आपका ही मन खुश नहीं है तो आप दूसरों को कैसे जोड़ सकते हैं। आप कहीं ना कहीं अच्छे इंसान हैं, इसीलिए जोड़ने से डरते हैं जो अच्छे लोग होते हैं वह लोग लोगों का मिस यूज नहीं करना चाहते हैं।

वह अपने संबंधियों का अपने रिश्तो का गलत फायदा नहीं उठाना चाहते हैं, आप उनमें से ही एक हैं।

लेकिन आप इस बात को मत भूलिए कि यह एक बड़ी इंडस्ट्री है यह एक बड़ा अवसर है।

हां ऐसा भी हो सकता है कि कुछ बुरे अनुभव आपके या आपके दोस्तों के पास हों, लेकिन जरूरी नहीं है कि एक बार किसी की जिंदगी में बुरा हुआ है तो हमेशा बुरा ही होगा, यह जरूरी नहीं है।

यह जरूरी नहीं है कि अगर एक दोस्त धोखा दिया हो तो दोस्तों से विश्वास से ही उठा लिया जाए, यह बिल्कुल भी जरूरी नहीं है।

हो सकता है कि ऐसी कोई चीज आपके साथ भी हुई हो, लेकिन जिसने भी इसके बारे में आपसे बताया हो एक बार आप उनसे फिर से बात कीजिए, फिर से सोचने समझने की कोशिश कीजिए।

क्योंकि इंडस्ट्री में बहुत ही पावर है और अभी इस देश के लिए इस इंडस्ट्री से बड़ी उम्मीद और कहीं नहीं है।

यदि आप सभी को आज का हमारा यह लेख “नेटवर्क मार्केटिंग: बिज़नस प्लान देखने के बाद जब गेस्ट बोले यह जोड़ने वाला काम है मैं नहीं करूँगा तो तुरंत यह काम कीजिये” पसंद आया हो तो कृपया करके आप सभी हमारे इस लेख को अपने टीम के हर मेंबर के साथ जरूर शेयर करें।

ताकि वह सभी लोग भी “नेटवर्क मार्केटिंग: बिज़नस प्लान देखने के बाद जब गेस्ट बोले यह जोड़ने वाला काम है मैं नहीं करूँगा तो तुरंत यह काम कीजिये” के बारे में समझ सके और दूसरों को समझा सके।

इसे भी पढ़ें

आपका बहुत-बहुत धन्यवाद।

अपने नेटवर्क मार्केटिंग बिज़नेस को 10 गुना रफ़्तार से बढाने के लिए हमारे साथ जुड़िये

नेटवर्क मार्केटिंग हिंदी VIP कम्युनिटी
टेलीग्राम चैनल
ज्वाइन करें
नेटवर्क मार्केटिंग हिंदी
टेलीग्राम ग्रुप डिस्कशन
ज्वाइन करें
नेटवर्क मार्केटिंग हिंदी फेसबुक पेज फॉलो करें
नेटवर्क मार्केटिंग हिंदी फेसबुक ग्रुपज्वाइन करें

Angesh Kumar Gond | Blogger | YouTuber, Hello Guys, मेरा नाम अंगेश कुमार गोंड हैं । मैं एक ब्लॉगर और youtuber हूं । मेरा दो YouTube चैनल है । एक Angesh Kumar Gond जिस पर एक लाख से अधिक सब्सक्राइबर हैं और दूसरा AG Digital World यह मेरा एक नया चैनल है जिस पर मैं लोगों को ब्लॉगिंग और यूट्यूब के बारे में सिखाता हूं, कि कैसे कोई व्यक्ति जीरो से शुरुआत करके एक अच्छा खासा यूट्यूब चैनल और वेबसाइट बना सकता है । Thanks.

1 thought on “नेटवर्क मार्केटिंग: बिज़नस प्लान देखने के बाद जब गेस्ट बोले यह जोड़ने वाला काम है मैं नहीं करूँगा तो तुरंत यह काम कीजिये”

Leave a Comment