MLM Objections: डायरेक्ट सेल्लिंग में जॉइनिंग के समय जब कोई बोले सोचकर बताऊंगा तो अपनाएं यह तरीका

MLM Objections. आज के इस लिख में मैं आप सभी को एक बहुत बड़े ऑब्जेक्शन को हैंडल करना सिखाऊंगा।

अगर आप किसी भी सेल्स इंडस्ट्री से जुड़े हुए हैं तो आप इस ऑब्जेक्शन को जरूर फेस किए होंगे।

कई बार क्या होता है कि जब आप अपने गेस्ट को प्रेजेंटेशन दिखाते हैं तो आपका गेस्ट आपसे यह बोलता है कि मैं सोचकर बताऊंगा।

तो आखिर इस ऑब्जेक्शन को कैसे हैंडल किया जा सकता है, इसी के बारे में आज के इस लेख में मैं आप सभी को बताऊंगा।

लेकिन उससे पहले आप यह समझ लीजिए कि जब भी कोई गेस्ट आपसे यह बोलता है कि मैं सोचकर बताऊंगा तो आखिर वह आपसे कहना क्या चाहता है?

तो मैं आप सभी को यह बता दूँ कि आपके गेस्ट आपसे तीन बातें बोलना चाहता है।

हमारे साथ टेलीग्राम पर जुड़ें

MLM Objections I'll tell you after thinking.-min

MLM Objections

1. मेरे पास पैसे नहीं है

हो सकता है कि आपके प्रोडक्ट को खरीदने के लिए जितने पैसे की रिक्वायरमेंट है उतना पैसा उस व्यक्ति के पास ना हो कभी-कभी ऐसा भी हो सकता है?

लेकिन वह गेस्ट इस बात को एक्सेप्ट करना नहीं चाहता है इसीलिए वह यह बहाना बनाने लगता है कि मैं सोचकर बताऊंगा ।

वह सीधा सीधा यह नहीं कहता है कि मेरे पास अभी प्रोडक्ट के लिए पैसे नहीं है।

2. प्रोडक्ट की वैल्यू

यानी कि आप अपने प्रोडक्ट के बारे में जो कुछ भी अपने गेस्ट को बताते हैं उसका वैल्यू नहीं समझा पाते हैं कि इसका वैल्यू कितनी अच्छी है।

इसलिए आपके गेस्ट को यह बात समझ में नहीं आती है कि इसकी क्या वैल्यू है यानी कि कहीं ना कहीं वैल्यू को प्रजेंट करने में आप चुक जाते हैं।

हमारे साथ टेलीग्राम पर जुड़ें

3. क्यों यह इतना अर्जेंट है

यानी कि आपके गेस्ट को यह नहीं लगता है कि यह इतना अर्जेंट क्यों है?

यानी कि कहीं ना कहीं अर्जेंसी का सेंसर क्रिएट नहीं हो पाता है, उसको यह समझ में नहीं आ पाता है कि मुझे इसी वक्त इस चीज को खरीदना चाहिए।

या नहीं खरीदना चाहिए या फिर आपके प्लान या कंपनी को जोड़ना चाहिए।

तो जब कभी भी कोई भी व्यक्ति यह बोलता है कि मैं सोचकर बताऊंगा तो इसका मतलब यह है कि वह इन्हीं तीन बातों को आपसे कहना चाहता है।

तो सबसे पहले यह समझते हैं कि ऑब्जेक्शन को हैंडल करने के लिए आखिर करना क्या है?

हमारे साथ टेलीग्राम पर जुड़ें

तो जब कभी भी आप अपने प्लान के बारे में या प्रेजेंटेशन के बारे में किसी के साथ भी शेयर करने वाले हैं तो सबसे पहले तो आपको अपने गेस्ट से यह बोलना है की आज इस समय हम और आप इस मीटिंग में बैठे हैं।

और हमारे इस मीटिंग का उद्देश्य यह है कि इस मीटिंग में जो भी प्लेटफार्म मैं आपसे शेयर करने वाला हूं उसको हमको यह देखना है कि यह प्लेटफार्म आपके और हमारे एक साथ काम करने के लिए अच्छा है या नहीं।

तो सबसे पहले आपको अपना उद्देश्य समझाना है कि इस मीटिंग का उद्देश्य क्या है और आज हम दोनों लोग यह तय करने वाले हैं कि जो प्लेटफार्म मैं आपके साथ शेयर करने वाला हूं यह प्लेटफार्म आपके और हमारे एक साथ काम करने के लिए अच्छा है कि नहीं।

उसके बाद आपको अपने गेस्ट से यह बोलना है कि इस मीटिंग के बाद आप मुझसे तीन बातें कर सकते हैं।

  1. Yes

अगर आपको यह लगता है कि यह प्लेटफार्म बहुत अच्छा है और इस प्लेटफार्म में हम और आप साथ मिलकर काम को कर सकते हैं तो आप यस बोल सकते हैं।

  1. No

अगर यह प्लेटफॉर्म आपके लायक नहीं है हमारे और आपके एक साथ काम करने के लिए अच्छा नहीं है तो आप क्लीयरली मुझे नो बोल सकते हैं।

आप मुझे जब क्लीयरली नो बोल देंगे तो मुझे कोई भी दुख नहीं होगा नो सुनने में।

और यह जो तीसरा सवाल है यह तो मैं यह नहीं चाहता कि आप मुझसे बोलें लेकिन फिर भी आप बोल सकते हैं वह यह है

  1. सोच कर बताऊंगा

आप यह बोल सकते हैं कि मैं इस प्लेटफार्म में बहुत दिनों से काम कर रहा हूं और मुझे जहां तक अंदाजा है कि जब कोई भी गेस्ट यह बोलता है कि मैं सोचकर बताऊंगा तो वह सिर्फ सोचकर बताऊंगा एक पर्दा होता है।

वह रियल में तो यही कहना चाहता है कि मैं इस प्लेटफार्म में नहीं आऊंगा इसलिए आप क्लीयरली मुझे नो बोल सकते हैं।

यानी कि इस मीटिंग के लास्ट में आप मुझसे सिर्फ दो ही सवाल कर सकते हैं या तो यस या तो नो।

तो यह बाते आपको पहले ही कर लेना है, उसके बाद से आपको अपना प्लान दिखाना शुरू करना है।

आप यहां पर अपने गेस्ट के दिमाग से यह हटा देते हैं कि मैं सोचकर बताऊंगा इसको आप पहले ही निकाल देते हैं।

और इसके बाद आपके गेस्ट के पास सिर्फ दो ही ऑप्शन होगा या तो वह आपसे हां बोलेगा या ना बोलेगा।

तो जब कभी भी आप इस तरीके से अपना प्रजेंटेशन शुरू करेंगे तो 99% चांस है कि वह गेस्ट सिर्फ हां ही बोलेगा।

और अगर ऐसी बात कभी आ भी गई कि आपका गेस्ट आपसे यह बोलता है कि मैं सोचकर बताऊंगा तो आप पूरे कॉन्फिडेंस के साथ यह बोल सकते हैं कि देखिए आप बुरा मत मानिएगा,

लेकिन जहां तक मेरा अनुभव है कि जब भी कोई व्यक्ति यह बोलता है कि मैं सोचकर बताऊंगा तो उसके कहने का मतलब सिर्फ यही होता है कि मैं नहीं करूंगा।

तो मुझे पता है कि आप मुझसे डायरेक्ट यह नहीं बोल सकते हैं कि मैं नहीं करूंगा इसलिए आप मुझसे यह बोल रहे हैं कि मैं सोचकर बताऊंगा।

तो मैं आपसे सिर्फ इतना ही पूछना चाहूंगा यहां से जाने से पहले की आखिर आप इस प्लान को सुनने के लिए क्यों आए थे?

आपके पास कोई तो ऐसी प्रॉब्लम होगी जिसको समाप्त करने के लिए आप आए होंगे?

आप थोड़ा सा यह याद कीजिए कि आप इतना टाइम क्यों दिए हैं और किस लिए आप आए थे?

और दूसरी बात यह भी हो सकता है कि जब कोई व्यक्ति आपसे यह बोलता है कि मैं सोचकर बताऊंगा तो यहां पर दो ही रीजन हो सकता है।

पहला तो यह कि उस वक्त उसके पास पैसे नहीं होंगे।

और दूसरा यह हो सकता है कि उसको आप का प्लान समझ में नहीं आया होगा।

तो आप वहां पर पूरे कॉन्फिडेंस के साथ अपने गेस्ट से यह बोल सकते हैं कि क्या आपके पास कहीं पैसे की प्रॉब्लम तो नहीं है?

या फिर क्या मेरा प्लान आपको समझ में नहीं आया है?

तो जब आप इतना पूछेंगे तो आपका गेस्ट आपसे यह बोलेगा कि सर आप सच कह रहे हैं मेरे पास इस समय इस प्लेटफार्म में आने के लिए पैसे नहीं है।

या फिर उनको आपका प्लान समझ में नहीं आया होगा तो आपसे यह बोलेंगे कि मुझे प्लान समझ में नहीं आया है कृपया आप मुझे फिर से समझाने की कोशिश कीजिए।

तो आप उनसे यह बोलिए कि यह तो बहुत अच्छी बात है, आपको समझ में नहीं आया है तो मैं आपको दोबारा समझाना चाहूंगा तो आप अपने गेस्ट को दोबारा समझाइए।

आज के इस लेख में मैं आप सभी को यही समझाने की कोशिश किया हूं कि कैसे “मैं सोचकर बताऊंगा” यह ऑब्जेक्शन को हैंडल किया जा सकता है।

  1. शुरू कीजिए और इस ऑब्जेक्शन को उठने से पहले ही खत्म कर दीजिए।
  2. आप डरिए मत, डायरेक्टली बात कीजिए अगर आप इस 2 तरीके को अपना लेते हैं तो आप इस ऑब्जेक्शन को हैंडल कर लेंगे।

यदि आप सभी को आज का हमारा यह लेख (MLM Objections: डायरेक्ट सेल्लिंग में जॉइनिंग के समय जब कोई बोले सोचकर बताऊंगा तो अपनाएं यह तरीका) पसंद आया हो तो कृपया करके आप सभी हमारे इस लेख को अपने टीम के हर मेंबर के साथ जरूर शेयर करें।

ताकि वह सभी लोग भी (MLM Objections: डायरेक्ट सेल्लिंग में जॉइनिंग के समय जब कोई बोले सोचकर बताऊंगा तो अपनाएं यह तरीका) के बारे में समझ सके और दूसरों को समझा सके।

आप और भी ऐसे बहुत सारे लेख पढने के लिए आप हमारी वेबसाइट www.networkmarketinghindi.com पर Visit कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें

आपका बहुत-बहुत धन्यवाद।

अपने नेटवर्क मार्केटिंग बिज़नेस को 10 गुना रफ़्तार से बढाने के लिए हमारे साथ जुड़िये

नेटवर्क मार्केटिंग हिंदी VIP कम्युनिटी
टेलीग्राम चैनल
ज्वाइन करें
नेटवर्क मार्केटिंग हिंदी
टेलीग्राम ग्रुप डिस्कशन
ज्वाइन करें
नेटवर्क मार्केटिंग हिंदी फेसबुक पेज फॉलो करें
नेटवर्क मार्केटिंग हिंदी फेसबुक ग्रुपज्वाइन करें

Angesh Kumar Gond | Blogger | YouTuber, Hello Guys, मेरा नाम अंगेश कुमार गोंड हैं । मैं एक ब्लॉगर और youtuber हूं । मेरा दो YouTube चैनल है । एक Angesh Kumar Gond जिस पर एक लाख से अधिक सब्सक्राइबर हैं और दूसरा AG Digital World यह मेरा एक नया चैनल है जिस पर मैं लोगों को ब्लॉगिंग और यूट्यूब के बारे में सिखाता हूं, कि कैसे कोई व्यक्ति जीरो से शुरुआत करके एक अच्छा खासा यूट्यूब चैनल और वेबसाइट बना सकता है । Thanks.

Leave a Comment