It will rain new people in network marketing नेटवर्क मर्केटिंग में नए लोगों की बरसात हो जायेगी ऐसे काम कीजिये

It will rain new people in network marketing. आज के इस लेख में मैं आप सभी को बताऊंगा कि कैसे आप नए नए लोगों को अपनी टीम में जोड़ सकते हैं।

बहुत सारे लोगों का यह सवाल रहता है कि लोग खत्म हो गए हैं नए लोगों को कहां से लाएं?

तो आज के इस लेख में बताए गए बातों के द्वारा यह क्लियर हो जाएगा कि आपको नए नए लोगों को कहां से लाना है।

क्या आपको पता है कि इस पूरे दुनिया में कितने % बिजनेस वैल्यूम जरनेट होता है?

यह पूरी हिंदुस्तान नहीं बल्कि पूरी दुनिया की बात की जाए तो लगभग डाटा के अकॉर्डिंग 190 विलियम यूएस डॉलर यह इतना बड़ा बिजनेस वैल्यू है जिसको अगर आप रुपए में कन्वर्ट करना चाहे तो रुपए में कन्वर्ट करना इतना आसान नहीं है।

यह सारी बातें मैं आपको क्यों बता रहा हूं यह आपको आगे क्लियर हो जाएगा।

It will rain new people in network marketing

It will rain new people in network marketing-min

क्या आपको पता है कि अमेरिका किस तरह का देश है अमेरिका तो आज के समय में दुनिया का सबसे शक्तिशाली देश है यह हर किसी को पता है।

अगर अमेरिका की आबादी की बात की जाए तो क्या आपको अमेरिका की आबादी पता है?

तो मैं आप सभी को यह बता दूं कि अमेरिका की आबादी सिर्फ 32 करोड़ है।

अगर आप इंडिया से अमेरिका काकम्परिजन करेंगे तो इंडिया का 3 से 4 बड़े शहर और अमेरिका का पूरा देश इतना है।

इंडिया 132 करोड़ और अमेरिका मात्र 32 करोड़ है इंडिया के मामले में अमेरिका कहीं भी बराबरी नहीं कर पाएगा।

इंडियन अमेरिका की आबादी के मामले में बहुत आगे हैं लेकिन बात की जाए बिजनेस के मामले में तो इंडियन पीछे हैं और वह अमेरिकन पूरी बिजनेस का 190 विलियन यूएस डॉलर का सबसे बड़ा हिस्सा 20 % अमेरीकन लेकर जाते हैं।

क्या आपको पता है क्यों?

क्योंकि अमेरिकन वालों के अंदर यह फिलिंग बहुत ही कम होता है कि मुझे सब कुछ पता है।

अमेरिकन स्किल्ड होते हैं और उनके अंदर यह फिलिंग बहुत ही कम होती है कि मुझे सब कुछ पता है और अमेरिकन किसी भी चीज को छोटा नहीं मानते हैं।

इंडिया में तो बहुत सारे लोग ऐसे हैं जो यह बोलने लगते हैं कि यह मेरे लेवल का काम नहीं है।

इस बिजनेस में मुझे सामान बेचना पड़ेगा यह बिजनेस मेरे लेवल का नहीं है इंडियन बेचने के नाम से डर जाते हैं।

लेकिन मैं आप सभी को यह समझाना चाहूंगा कि आप खुद ही यह सोचिए कि जो भी बड़ा बिजनेसमैन है वह कहां से पैसा कमा रहा है?

क्या आप यह कभी सोचे हैं कि जो सबसे बड़ा बिजनेसमैन है यह कहां से इतना पैसा कमा रहा है?

जब आप यह सोचेंगे तो आपको यह पता चलेगा कि वह कुछ ना कुछ तो बेचते ही हैं जिससे वो पैसा ज्यादा कमाते हैं।

इस दुनिया में भी बिना कुछ बेचे अमीर बनने का कोई रास्ता ही नहीं है।

अगर अमीर बनना है तो सिर्फ एक ही रास्ता है कुछ ना कुछ तो बेचना ही पड़ेगा।

और बेचने के नाम से इंडियन डरते हैं वो यह सोचते हैं कि मैं कोई सामान बेचूंगा तो मैं छोटा आदमी बन जाऊंगा।

लेकिन यहां पर मैं आप सभी को समझाना चाहूंगा कि जब हर एक बड़ा आदमी बेच रहा है तो आप कहां से छोटा बन जाएंगे बेचने से?

अमेरिकन किसी भी चीज को बेचने से घबराते नहीं इसलिए इंडियन से इतना बड़ा हिस्सा लेकर जाते हैं।

और उसके बाद से जो दूसरा सबसे बड़ा हिस्सा है वह 19% चाइना लेकर जाता है।

उसके बाद तीसरे ,चौथे और पांचवें नंबर पर आते हैं जापान ,जर्मनी ,कोरिया जो 15 से 16% लेकर जाते हैं।

और जो इंडियन हैं यह क्या आपको पता है कि नेटवर्क मार्केटिंग से कितना लेते हैं?

तो मैं आप सभी को बता दूं कि 1% से भी कम हिस्सा इंडियन लेकर जाते हैं नेटवर्क मार्केटिंग का।

तो आखिर ऐसा क्यों होता है कि इतना बड़ा नेटवर्क मार्केटिंग का बिजनेस से 1% से भी कम इंडियन लेते हैं।

इंडिया में बहुत सारे लोगों की सोच ऐसे बन चुकी है कि वह हर चीज को ऐसे जज करते हैं कि गवर्नमेंट का सर्टिफिकेट दिखाओ अप्रूवल दिखाओ ऐसे बोलते हैं।

तो मैं आप सभी को यह बताना चाहूंगा कि देखिए यह इंडस्ट्री गलत नहीं है बल्कि कुछ कंपनियां गलत होती हैं।

और नेटवर्क मार्केटिंग इंडस्ट्री नहीं बल्कि हर एक इंडस्ट्री में आप किसी भी इंडस्ट्री को ले लीजिए रियल स्टेट को ले लीजिए या आईआईटी को ले लीजिए यानी कि कोई भी इंडस्ट्री को ले लीजिए।

फ्रॉड होते हैं और फ्रॉड हुए हैं, कुछ लोगों ने और कुछ कंपनियों ने फ्रॉड कीए हैं।

नेटवर्क मार्केटिंग में भी ऐसा हुआ है, सारे इंडस्ट्री में होता है इसमें भी हुआ है।

लेकिन यह इंडस्ट्री गलत नहीं है अगर यह इंडस्ट्री गलत होती तो ग्लोबली इतना बड़ा बिजनेस यह नहीं होता।

अमेरिका और चाइना जैसी कंट्री इतना ज्यादा इंवॉल्व नहीं होती इसमें।

लेकिन यह इंडिया वाले क्यों नहीं है, इनके पास इतना बहाना क्यों आता है कि यह मेरे लेवल का बिजनेस नहीं है।

यह इंडिया वालों का लेबल कौन सा है यह समझना बहुत ही मुश्किल है?

यहां पर मैं आप सभी से एक और बात बताना चाहूंगा कि क्या आपको यह पता है कि इस पूरी दुनिया का सबसे हॉट मार्केट कौन सा है?

कौन सा ऐसा देश है जिसका पूरी दुनिया पर नजर है?

में तो मैं आप सभी को यह बता दूँ कि वह है अपना भारत।

क्योंकि आबादी में यह भारत डिवेलप नहीं है यह डेवलपिंग कंट्री में आता है।

डिवेलप का मतलब यह होता है कि जो विकसित हो चुका है।

और डेवलपिंग का मतलब यह होता है कि जो विकसित हो रहा है।

चाइना में इतनी अपॉर्चुनिटी नहीं है क्योंकि चाइना डिवेलप हो चुका है।

इंडिया डेवलपिंग है इसलिए इंडिया में अपॉर्चुनिटी ज्यादा है।

नेटवर्क मार्केटिंग में बहुत सारे बाहर के लोग क्या करते हैं कि 4 से 5 महीने के लिए हॉलिडे मनाने के लिए इंडिया में आते हैं,

फाइव स्टार होटल में रुकते हैं 4 से 5 महीने के लिए और 4 से 5 महीने में यह बहुत अच्छे से प्रोस्पेक्टिंग करके बहुत अच्छी टीम बना कर अपने देश वापस चले जाते हैं।

बाहर के देश वाला अनजान देश में आकर अनजान लोगों से बात करके एक बहुत ही अच्छा टीम बना लेता है और फिर अपने देश वापस भी चला जाता है।

लेकिन आपको अपने ही देश में लोगों की कमी पड़ जाती है, आपको बाहर के लोग दिखाई ही नहीं देते हैं।

थोड़ा आप ऑफिस से बाहर निकलिए देखिए चारों तरफ लोग ही लोग हैं यह लोग कौन से लोग हैं?

तो यह लोग वही लोग हैं दूसरे देश वाले जिसको इस देश का कुछ भी पता नहीं है।

इधर के लोगों की भाषा तक उन लोगों को पता नहीं रहता उन लोगों को हिंदी भी बोलना नहीं आता है लेकिन वैसे वैसे लोग अपने देश में आकर अपना टीम बड़ा कर लेते हैं और चले जाते हैं।

और आपको पता भी नहीं चलता है आप तो यहीं रहते हैं आपको यहां की भाषा भी आती है यहां के लोगों को आप अच्छे से समझते भी हैं यहां के लोग आपके ही कल्चर के लोग हैं।

लेकिन फिर भी आप यह बहाना बनाने लगते हैं कि लोग यहीं खत्म हो गए हैं नए लोग नहीं मिल रहे हैं नए लोगों को कहां से लेकर आए?

लेकिन मैं आप सभी को यह बताना चाहूंगा कि लोग सिर्फ एक जगह नहीं हैं और वह जगह है आपका दिमाग।

लोग सिर्फ आपके दिमाग में नहीं हैं बाकी हर जगह पर लोग हैं।

आप घर से बाहर निकलिए बाहर निकलते ही लोग दिखेंगे, ऑफिस से बाहर निकलिए वहां भी बाहर निकलते ही लोग दिखने लगेंगे।

तो अगर आप ऐसे खाली माइंडसेट लेकर इस इंडस्ट्री में तो क्या दुनिया की किसी भी इंडस्ट्री में आप सफल नहीं हो पाएंगे।

क्योंकि आपके माइंड में सिर्फ यही है कि लोग नहीं हैं जब आप अपॉर्चुनिटी बनायेंगे तो आपको अपॉर्चुनिटी मिलेगी।

जब तक आप यह खाली माइंडसेट लेकर ढूंढते रहेंगे की यहां पर अपॉर्चुनिटी नहीं है वहां पर अपॉर्चुनिटी नहीं है तो आपको अपॉर्चुनिटी मिलेगी भी नहीं।

क्योंकि जो आप देखते हैं वही आपको दिखता है।

और जो आप ढूंढते हैं वही आपको मिलता है।

अगर आप प्रॉब्लम देख रहे हैं तो प्रॉब्लम ही दिखेगा।

अगर आप प्रॉब्लम ढूंढ रहे हैं तो प्रॉब्लम ही मिलेगा।

आप अपॉर्चुनिटी देखिए अपॉर्चुनिटी दिखेगा।

आप अपॉर्चुनिटी ढूंढ़िए अपॉर्चुनिटी मिलेगा।

हर रोज नए लोगों को ढूंढ़िए नए-नए लोग आपको मिलेंगे क्योंकि हर जगह पर लोग अवेलेबल हैं।

यदि आप सभी को आज का हमारा यह लेख (It will rain new people in network marketing नेटवर्क मर्केटिंग में नए लोगों की बरसात हो जायेगी ऐसे काम कीजिये) पसंद आया हो तो कृपया करके आप सभी हमारे इस लेख को अपने टीम के हर मेंबर के साथ जरूर शेयर करें।

ताकि वह सभी लोग भी (It will rain new people in network marketing नेटवर्क मर्केटिंग में नए लोगों की बरसात हो जायेगी ऐसे काम कीजिये) के बारे में समझ सके और दूसरों को समझा सके।

आप और भी ऐसे बहुत सारे लेख पढने के लिए आप हमारी वेबसाइट www.networkmarketinghindi.com पर Visit कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें

आपका बहुत-बहुत धन्यवाद।

अपने नेटवर्क मार्केटिंग बिज़नेस को 10 गुना रफ़्तार से बढाने के लिए हमारे साथ जुड़िये

नेटवर्क मार्केटिंग हिंदी VIP कम्युनिटी
टेलीग्राम चैनल
ज्वाइन करें
नेटवर्क मार्केटिंग हिंदी
टेलीग्राम ग्रुप डिस्कशन
ज्वाइन करें
नेटवर्क मार्केटिंग हिंदी फेसबुक पेज फॉलो करें
नेटवर्क मार्केटिंग हिंदी फेसबुक ग्रुपज्वाइन करें

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top