If you want to increase joining in network marketing नेटवर्क मार्केटिंग में जॉइनिंग बढानी है तो यह 2 काम आज से ही शुरू कर दीजिये

If you want to increase joining in network marketing. आज के इस लेख में मैं आप सभी को 2 ऐसी बातें बताऊंगा जिसको आपको प्लान को बताते समय यह दो बातें जरूर करना चाहिए।

अगर आप यह दो बातें करेंगे तो आपका प्लान प्रजेंटेशन बहुत ही इफेक्टिव हो जाएगा।

और आपका जो जॉइनिंग का रेशियो है वह रेशियो बढ़ भी जाएगा ।

If you want to increase joining in network marketing-min

आपको प्लान बताने में भी अच्छा लगेगा और सामने वाले को आपका प्लान सुनने में भी अच्छा लगेगा।

और जब सामने वाला व्यक्ति आपके प्लान को अच्छे से सुनेगा यानी कि उसको आपका प्लान सुनने में अच्छा लगेगा तो आपकी जॉइनिंग का रेशियो भी बढ़ जाएगी, अगर आप के प्लान प्रजेंटेशन में कोई स्टोरी है तो वह आपके प्लान प्रजेंटेशन को बहुत ही बेहतरीन बना देता है।

जब आप लोगों को अपना प्लान प्रेजेंटेशन दिखाते हैं आधा घंटा या फिर 45 मिनट जितनी भी देर आप अपना प्लान प्रेजेंटेशन कर रहे हैं,

हमारे साथ टेलीग्राम पर जुड़ें

प्लान प्रेजेंटेशन की ज्यादातर चीजें फैक्ट और डाटा होता है और डाटा और फैक्ट हमेशा बोरिंग होता है।

तो अगर आप आधा घंटा या 45 मिनट अपना प्लान प्रजेंट कर रहे हैं तो वहां पर आप अपने गेस्ट को बोर कर रहे हैं।

क्योंकि बैक टू बैक आप डाटा देते जाते हैं मतलब की कभी आप कंपनी का प्रोफाइल बताते हैं,

कभी आप प्रोडक्ट के बारे में बताते हैं ,कभी आप अपने प्लान के बारे में बताते हैं,

यह सारी चीजें सामने वाले गेस्ट को बोरिंग महसूस कराने लगता है।

तो मेरे कहने का मतलब यह है कि आपके पास कुछ कहानियों का डेटाबेस भी होना चाहिए।

हमारे साथ टेलीग्राम पर जुड़ें

यह नहीं है कि आप जब भी किसी गेस्ट के पास जाएं तो हर बार नया नया आपके पास स्टोरी होना चाहिए ऐसा कुछ भी नहीं है।

लेकिन आपके पास कुछ कहानी का स्टॉक जरूर होना चाहिए जो आपको अपने गेस्ट को आधा घंटा या 45 मिनट के प्रजेंटेशन में जरूर बीच-बीच में सुनाना चाहिए।

आपके पास ज्यादा स्टोरी नहीं है तो आप एक ही स्टोरी को बार-बार हर एक नए गेस्ट के सामने कर सकते हैं।

कुछ छोटे-छोटे चुटकुले भी रख सकते हैं अगर आपको कोई स्टोरी नहीं मिलता है तो आप अपने अपलाइन का ही सक्सेस स्टोरी या फिर अपने डाउन लाइन के स्टोरी बताइए कि जब वह इस कंपनी में आए थे तो उनकी स्थिति इतनी खराब थी।

कुल मिलाकर कहने का मतलब यह है कि आपको आधा घंटा या 45 मिनट के प्रजेंटेशन में स्टोरी जरूर सुनाना पड़ेगा।

हमारे साथ टेलीग्राम पर जुड़ें

अगर आपको अपने प्लान प्रेजेंटेशन को इंटरएक्टिव बनाना है अगर बहुत ही बेहतरीन बनाना है तो आपको अपने प्रजेंटेशन के बीच में स्टोरी जरूर सुनाना पड़ेगा।

अगर उसमें कोई छोटा सा स्टोरी नहीं है तो आपका प्रजेंटेशन बोरिंग हो जाएगा।

अगर आप बिना किसी स्टोरी को आधा घंटा 45 मिनट अपने गेस्ट को प्लान दे रहे हैं और यह उम्मीद रख रहे हैं कि यह तुरंत हां बोल देगा तो यह पॉसिबल ही नहीं है।

वह आपकी बातों को सुन सुन कर बोर हो कर थक चुका होता है इसलिए तुरंत डिसीजन नहीं लेता है।

वह आपके प्लान प्रेजेंटेशन सुनने के बाद यह बोलता है कि मैं बाद में सोच कर बताऊंगा।

तो अगर आप यह नहीं सुनना चाहते हैं कि मैं सोचकर बताऊंगा तो आप अपने गेस्ट को बोर मत कीजिए।

उसको इंगेज कीजिए, अगर आप के प्रजेंटेशन में कोई स्टोरी नहीं है तो आपका प्रेजेंटेशन बोरिंग है।

और बोरिंग प्रजेंटेशन को सुनकर कोई भी गेस्ट तुरंत डिसीजन नहीं लेता है वह डिसीजन को डिले कर देता है।

और दूसरा यह है कि आपको अपने प्लान प्रेजेंटेशन के दौरान अपने गेस्ट से कई बार छोटे-छोटे सवाल भी पूछते रहना चाहिए।

एक ही चीज पर ज्यादा देर तक व्यक्ति अपना फोकस नहीं दे सकता है उसका ध्यान भटक जाता है।

तो उनका ध्यान अपनी तरफ करने का सिर्फ एक ही तरीका है आपको उनसे बार-बार सवाल करते रहना है।

आपको यह सवाल करना है कि ऐसा रहेगा तो कैसा है ठीक है या नहीं है।

अगर ऐसा रहेगा तो आप करना चाहेंगे या नहीं करना चाहेंगे यह मिल जाएगा तो कैसा रहेगा।

यानी कि आपको बीच-बीच में कुछ ना कुछ सवाल करते रहना है।

हर 2 से 3 मिनट बाद आप कुछ ना कुछ जरूर पूछिए ताकि उनका अटेंशन आप अपनी तरफ कर पाए।

अगर आप सामने वाले व्यक्ति का अटेंशन अपने तरफ नहीं करेंगे तो उसका ध्यान भटक जाएगा।

और वह आपके प्रजेंटेशन को सही से सुन नहीं पाएगा और जब आपके प्रजेंटेशन को सही से नहीं सुनेगा तो वह डिसीजन भी नहीं लेगा।

वह आपको लास्ट में यही बोलेगा कि मैं बाद में सोच कर बताऊंगा जो आप बिल्कुल भी सुनना नहीं चाहते हैं।

हर नेटवर्क मार्केटिंग के डिस्ट्रीब्यूटर इस शब्द से नफरत करता है कि मैं बाद में सोच कर बताऊंगा।

क्योंकि जो भी यह बोलता है मैं सोचकर बताऊंगा वह इनडायरेक्टली यही बोलता है कि मैं आपके बिजनेस में ज्वाइन नहीं हो पाऊंगा।

अगर आप यह नहीं सुनना चाहते हैं कि मैं सोचकर बताऊंगा,

तो आपको हर 2 से 3 मिनट बाद ज्यादा से ज्यादा 5 मिनट बाद आपको जरूर सवाल पूछ कर उसका ध्यान अपनी तरफ केंद्रित करना पड़ेगा।

यदि आप सभी को आज का हमारा यह लेख (If you want to increase joining in network marketing नेटवर्क मार्केटिंग में जॉइनिंग बढानी है तो यह 2 काम आज से ही शुरू कर दीजिये) पसंद आया हो तो कृपया करके आप सभी हमारे इस लेख को अपने टीम के हर मेंबर के साथ जरूर शेयर करें।

ताकि वह सभी लोग भी (If you want to increase joining in network marketing नेटवर्क मार्केटिंग में जॉइनिंग बढानी है तो यह 2 काम आज से ही शुरू कर दीजिये) के बारे में समझ सके और दूसरों को समझा सके।

आप और भी ऐसे बहुत सारे लेख पढने के लिए आप हमारी वेबसाइट www.networkmarketinghindi.com पर Visit कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें

आपका बहुत-बहुत धन्यवाद।

अपने नेटवर्क मार्केटिंग बिज़नेस को 10 गुना रफ़्तार से बढाने के लिए हमारे साथ जुड़िये

नेटवर्क मार्केटिंग हिंदी VIP कम्युनिटी
टेलीग्राम चैनल
ज्वाइन करें
नेटवर्क मार्केटिंग हिंदी
टेलीग्राम ग्रुप डिस्कशन
ज्वाइन करें
नेटवर्क मार्केटिंग हिंदी फेसबुक पेज फॉलो करें
नेटवर्क मार्केटिंग हिंदी फेसबुक ग्रुपज्वाइन करें

Angesh Kumar Gond | Blogger | YouTuber, Hello Guys, मेरा नाम अंगेश कुमार गोंड हैं । मैं एक ब्लॉगर और youtuber हूं । मेरा दो YouTube चैनल है । एक Angesh Kumar Gond जिस पर एक लाख से अधिक सब्सक्राइबर हैं और दूसरा AG Digital World यह मेरा एक नया चैनल है जिस पर मैं लोगों को ब्लॉगिंग और यूट्यूब के बारे में सिखाता हूं, कि कैसे कोई व्यक्ति जीरो से शुरुआत करके एक अच्छा खासा यूट्यूब चैनल और वेबसाइट बना सकता है । Thanks.

Leave a Comment