How to Talk People in Hindi लोगों से चालाकी से बात करना सीखें

Network Marketing in Hindi

How to Talk People in Hindi लोगों से चालाकी से बात करना सीखें

How to Talk People in Hindi. शब्द वह ताकतवर हथियार है जिसके माध्यम से आप सभी किसी के जीवन को बना सकते हैं और बर्बाद भी कर सकते हैं, शब्दों में इतनी ताकत है की वह आपकी हर दुख-दर्द को मिटा भी सकता है और आपकी हर खुशी को छीन भी सकता है।

यह शब्द ही है जो आपके हर रिश्ते को तोड़ सकते हैं और टूटे हुए रिश्ते को जोड़ भी सकते हैं, शब्द आपको दुनिया की हर खुशी और हर कामयाबी हासिल कराने की शक्ति रखते है और आपका सब कुछ बर्बाद करने की शक्ति भी रखते हैं।

शब्द सिर्फ इंसान को ही नहीं एक पूरे परिवार को और देश को तबाह करने की और निर्माण करने की भी ताकत रखते हैं। दुनिया के सबसे ज्यादा शक्तिशाली और प्रभावशाली शस्त्र होते हैं यह शब्द। इसलिए आज के इस लेख में हम यही जानेंगे की दूसरों के ऊपर अपने शब्दों का जादू कैसे किया जाता है।

आप सोच रहे होंगे की क्या शब्दों में भी जादू होता है तो जी हां शब्दों में कमाल का जादू होता है, एक ऐसा जादू जो हंसते हुए को रुला दे और रोते हुए को हंसा दे।

जो इंसान शब्दों का जादू करना सीख गया दुनिया में उससे बड़ा कोई और जादूगर नहीं है। आपका बोलना, आपका बातचीत करना यह सब भी एक कला है, आपको और कुछ सीखने की जरूरत भी नहीं है बस आपने बोलने की कला सीख ली तो आप हर सफलता हर कामयाबी और हर इंसान को अपनी तरफ बहुत ही आसानी के साथ आकर्षित कर सकते हैं।

Advertisement

सबसे अच्छी बात यह है की आप सभी को बोलने की कला सीखने के लिए आपको ज्यादा पैसा खर्च करने की जरूरत नहीं है और ना ही ज्यादा पढ़ने लिखने की जरूरत है। क्योंकि बहुत ज्यादा पढ़े लिखे होने के बाद भी जिन लोगों को बोलने की कला नहीं आती है वह सभी लोग कभी जीवन में सफल नहीं हो पाते हैं।

इसे सीखना बहुत ही आसान है, बस जरूरत है अपने आदतों और अंदाज़ को बदलने की। आप कभी भी शब्दों की शक्ति को कम मत समझना, क्योंकि शब्दों में इतनी ताकत है कि अपने शब्दों से ही एक इंसान लाखों दिलों पर राज कर सकता है, यहां तक की शब्दों में इतनी ताकत है जो इंसान अंदर से मर चुका हो उसके अंदर जान फूंक सकता है, नई जिंदगी दे सकता है ।

रोम के राजा फेड्रिक ने 13वीं शताब्दी में छोटे बच्चों पर एक प्रयोग किया था वही जानना चाहता था कि शब्दों के बिना एक इंसान का जीवन कैसा हो सकता है।

फेड्रिक ने कुछ छोटे बच्चों को एक ऐसी जगह पर रखने का आदेश दिया जहां पर कोई भी उन बच्चों से किसी भी तरीके का बात नहीं कर सकता था। उन बच्चों की देखभाल और रखरखाव के लिए दासियां तो थी लेकिन वे ना बच्चों से बात करती थी और ना ही आपस में बात करती थी।

How to Talk People in Hindi लोगों से चालाकी से बात करना सीखें Angesh Kumar Gond

उन सभी बच्चों को खाने पीने की सारी चीजें दी जाती थी लेकिन बच्चों के आसपास बिल्कुल शांति का माहौल था, किसी भी तरीके का कोई भी आवाज नहीं था। इन सभी के पीछे उस राजा का एक ही उद्देश्य था वास्तव में एक इंसान की वास्तविक भाषा क्या है।

Advertisement

लेकिन राजा के इस प्रयोग से मनुष्य की वास्तविक भाषा सामने तो नहीं आई लेकिन जो परिणाम सामने आया वह बहुत ही खतरनाक था। जिन बच्चों को बिना बातचीत वाले माहौल में रखा गया था वे सभी बच्चे हमेशा-हमेशा के लिए चुप हो गए यानी कि उन सभी बच्चों की मौत हो गई।

वे सभी बच्चे जिंदा ही नहीं रह पाए, इस बात से यह स्पष्ट होता है कि बिना शब्दों के इंसान का जीवन ही संभव नहीं है । इसीलिए हम जानेंगे अपने शब्दों से अपने जीवन में कामयाबी कैसे हासिल की जाए, सफलता कैसे हासिल करें और सभी लोगों को अपनी तरफ कैसे आकर्षित करें।

अगर आप अपने शब्दों में जादू लाना चाहते हैं तो हमेशा इन 5 बातों को अपने बातचीत में जरूर शामिल करें, 5 बातें ऐसी भी जिसको आपको बात करने में कभी भी नहीं लानी चाहिए उससे बचना चाहिए।

लोगों से चालाकी से बात करना सीखें

तो अब हम शुरुआत करते हैं उन 5 बातों से जो आपको अपनी बातचीत करने में शामिल करनी चाहिए-

1. आराम से बोलें

आप अपने बोलने की गति को ना बहुत धीमी रखें और ना ही बहुत तेज रखें और अपने सभी शब्दों का उच्चारण सही और स्पष्ट तरीके से करें। यदि आप बहुत जल्दी जल्दी बोलेंगे तो आपकी बातें समझ नहीं आएंगे और यदि आप बहुत धीरे-धीरे बोलेंगे लोग आपसे बोर हो जाएंगे। अगर आप चिल्लाकर बोलेंगे तो लोगों को आपकी बातें अच्छी नहीं लगेगी और यदि आप धीरे बोलेंगे तो लोगों तक आपकी बातें पहुंची नहीं पाएगी, लोगों तक उसका असर ही नहीं पहुंचेगा।

Advertisement

आप हमेशा अपने शब्दों का उच्चारण सही रखें आपके सभी शब्द एकदम क्लियर होने चाहिए ताकि बहुत ही आसानी के साथ समझ आ जाए। बहुत सारे लोग ऐसे भी होते हैं जो भी बोलते हैं उनकी आधी शब्द समझ ही नहीं आते क्या बोल रहे हैं, ऐसे लोग कभी अपनी बातों से किसी का भी दिल नहीं जीत सकते और आजकल तो ऐसा समय आ गया है की अधिकतर लोगों के भाषा के उच्चारण गलत होते हैं ।

चाहिए को बोलते हैं चाईए, मेरे की जगह मेको बोलते हैं, नहीं को नई बोलते हैं लेकिन यदि आप एक कुशल वक्ता बनना चाहते हैं, गुड स्पीकर बनना चाहते हैं, आप यह चाहते हैं आपकी बातों का लोगों पर छाप पड़े तो आपको आपकी शब्द और उच्चारण सही रखने होंगे।

जब कोई भी वक्ता बोलना शुरू करता है तो उसके शुरु के 90 सेकंड ही यह डिसाइड कर देते हैं कि वह व्यक्ति एक कुशल वक्ता है या नहीं। अगर 90 सेकंड लोग आपकी बातों को बहुत ध्यान से सुनते हैं और उसमें रुचि लेते हैं तो यकीन मानिए लोग आपको और सुनना चाहेंगे।

आपकी शुरुआत की 90 सेकंड ही यह तय कर देते हैं आप किस तरीके के इंसान है। आपकी बॉडी लैंग्वेज और आपकी पर्सनालिटी उससे सब कुछ दिख जाता है और वह भी सिर्फ आपके 90 सेकंड बात करने से ही, तो इसीलिए आप हमेशा अपने शब्दों को स्पष्ट रखें, अपनी उच्चारण को सही रखें और अपनी आवाज की गति को बैलेंस करें।

2. अपने शब्दों में भावनाएं डालें

आप अपनी शब्दों में भावनाएं डालना सीखे चाहे वह वॉइस से हो फिर आपकी बॉडी लैंग्वेज से हो। जब तक आप अपने शब्दों में भावना ही नहीं डालते तब तक आपके वह शब्द किसी के दिलों को कैसे छू सकते हैं, दिलों को सिर्फ शब्द नहीं छूते, जब उन शब्दों में भावना जुड़ जाती हैं तब वह शब्द किसी के दिल को छूते हैं। जब तक हमारे शब्दों में भावनाएं प्रकट नहीं होती तब तक शब्दों में जादू आ ही नहीं सकता।

Advertisement

इसलिए यह बहुत जरूरी है की आप अपने शब्दों में भावनाएं प्रकट करना सीखें। वही शब्द है जब आप किसे कहते हैं प्यार से ” मैं तुम्हें कभी नहीं छोडूंगा” और वही शब्द जब आप किसी को क्रोध से कहते हैं कि “मैं तुम्हें कभी नहीं छोडूंगा” शब्द तो दोनों एक ही हैं लेकिन अर्थ बदल गया। इसलिए यदि आप चाहते हैं आपके शब्दों में जादू हो तो आप अपने शब्दों में भावनाओं को प्रकट करना सीखें।

3. बोलकर पढ़ें

आप हर रोज कम से कम आधा घंटा अपनी भाषा की किताब को बोलकर पढ़ें, इससे आपका बोलने का उच्चारण साफ और स्पष्ट होगा, आप अपनी आवाज को रिकॉर्ड करें और उसे सुने उसके बाद उसमें जो भी कमी नजर आए उसको दूर करें ।

4. प्राणायाम करें

अगर आप अपनी आवाज को बहुत अधिक सुंदर बनाना चाहते हैं तो कम से कम हर रोज आधे घंटे तक प्राणायाम करें लंबी गहरी सांस भीतर खींचे और लंबी गहरी सांस बाहर की तरफ छोड़ें आपकी सांसे जीतनी लंबी चलेंगे उतना ही आपकी आवाज में आकर्षण होगा। या फिर आप कुछ मिनट तक ॐ का उच्चारण करें ।

5. बिच बिच में गैप लें

जब आप किसी से बात कर रहे हो या कहीं पर स्पीच दे रहे हों तो आप वहां पर कुछ विशेष बातों पर जोर देना सीखें और शब्दों के बीच के अंतराल का उपयोग करना सीखें । जब कोई वक्ता बोलते- बोलते 2 सेकंड के लिए चुप हो जाता है तो उस 2 सेकंड के अन्तराल से सभी ऑडियंस का ध्यान अपनी तरफ आकर्षित कर लेता है।

शब्द वही हैं बस आप उनकी रहस्य को समझ गए और उनको अच्छे से इस्तेमाल करना सीखें गए तो आप किसी के दिल पर भी राज कर सकते हैं। यह वह पांच बातें थी जो आपको बातचीत करने में शामिल करनी चाहिए।

Advertisement

अब हम पांच बातें करेंगे जो आप सभी को बात करते समय कभी भी नहीं करनी चाहिए-

1. शर्माना

जो इंसान बात करने में शर्माता है वह कभी भी खुल करके अपनी बात किसी के सामने नहीं रह सकता उसकी शब्दों में वह ताकत या जादू कभी नहीं आ सकता। यदि आप एक अच्छा वक्ता बनना चाहते हैं और सब के दिलों पर राज करना चाहते हैं आपको अपने अंदर से शर्म को मिटाना ही पड़ेगा।

2. आत्मविश्वास की कमी

किसी व्यक्ति के अंदर विश्वास की कमी है तो ऐसे व्यक्ति के बातों में कभी भी दम नहीं आ सकता। आपकी बातों में जितना अधिक आत्मविश्वास होगा तो आपके शब्दों में भी उतनी शक्ति होगी।

3. अपनी बातों से लोगों को बोर ना करें

कभी भी बात करते समय लोगों को अपनी दुखड़े ना सुनाएं, उससे लोग आप से बोर होने लगते हैं। जब आपको लगे लोग आपकी बातों में इंटरेस्ट नहीं ले रहे हैं उनको मजा नहीं आ रहा है तो बेहतर होगा आप चुप हो जाए।

4. कम बोलो पर काम का बोलो

इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप कितनी देर बोल सकते हैं फर्क तो सिर्फ और सिर्फ इस बात से पड़ता है की जो आप बोल रहे हैं वह कितना उपयोगी है, लोगों का कितना फायदा हो सकता है, उससे लोगों के कितनी खुशी मिल सकती हैं। आप कितना बोलते हैं यह कोई मायने नहीं रखता आप क्या बोलते हैं और कैसे बोलते हैं मैंने रखता है।

Advertisement

5. दूसरों को प्राथमिकता दें

जब भी आप किसी से बात करें तो अपने बारे में कम उनके बारे में ज्यादा बातें करें, क्योंकि हर इंसान अपने बारे में सुनना पसंद करता है। आप उन्हें यह मत बताइए आप कैसे हैं आप उन्हें वह बताइए की वे कैसे हैं, आप उनके बारे में क्या सोचते हैं।

जब आप अपने बारे में कम और उनके बारे में ज्यादा बात करते हैं तो वे आप में खुद-ब-खुद इंटरेस्ट लेने लगते हैं और यदि आप अपने ही बारे में बात करने लगते हैं लोग आपसे दूर भागते हैं।

यदि आप अपने शब्दों में, अपनी पर्सनालिटी में आकर्षण लाना चाहते हैं तो अपने बारे में कम सामने वाले के बारे में ज्यादा बातें करें। यह सभी बातें दिखने में तो बहुत छोटी हैं लेकिन कोई भी इंसान इसे सीख लिया तो उसे दुनिया में कामयाब बनने से कोई नहीं रोक सकता।

जो इंसान बोलना सीख गया उसे और कुछ दुनिया में सीखने की जरूरत ही नहीं है क्योंकि बोलना यह दुनिया की सारी विद्द्यायों से बढ़कर है, हरज्ञान से बढ़कर है आपकी बोलने का ज्ञान,आपकी शब्दों का ज्ञान।

आप एक अच्छा वक्ता बनना चाहते हैं तो आप इन सभी बातों का निरंतर अभ्यास करें, सुन लेना ही पर्याप्त नहीं है जब यह सारी बातें आपके डेली लाइफस्टाइल में आएंगे, आप की प्रैक्टिस में आएंगे तो विश्वास रखें दोस्त आप सभी के दिलों पर राज करोगे।

Advertisement

इसे भी पढ़ें –

आपका बहुत-बहुत धन्यबाद !

क्या आप एक सफल लीडर बनाना चाहते हैं ?डायरेक्ट सेल्लिंग या जीवन के किसी भी क्षेत्र में सफल होने के लिए यह किताबें जरुर पढ़ें

(  500+ बेस्ट हिंदी eBooks )
ये सभी किताबें आपको डायरेक्ट सेल्लिंग में नंबर 1 लीडर बना देंगी. इसलिए आप सभी इन किताबों को जरुर पढ़ें और अपने टीम के हर मेम्बर्स को भी पढने के लिए कहें.

Please Share This

Leave a Comment

(  500+ बेस्ट हिंदी eBooks )
ये सभी किताबें आपको डायरेक्ट सेल्लिंग में नंबर 1 लीडर बना देंगी. इसलिए आप सभी इन किताबों को जरुर पढ़ें और अपने टीम के हर मेम्बर्स को भी पढने के लिए कहें.

(  500+ बेस्ट हिंदी eBooks )
ये सभी किताबें आपको डायरेक्ट सेल्लिंग में नंबर 1 लीडर बना देंगी. इसलिए आप सभी इन किताबों को जरुर पढ़ें और अपने टीम के हर मेम्बर्स को भी पढने के लिए कहें.