Choose Best MLM Company बेस्ट डायरेक्ट सेल्लिंग कंपनी का चुनाव करने का तरीका कभी गलत कंपनी में नहीं फंसोगे

Choose Best MLM Company. बहुत सारे लोग यह सोचते हैं कि आखिर कौन सी कंपनी को चुना जाए, क्योंकि जब हम नेटवर्क मार्केटिंग करते हैं तो उसे प्रजेंट टाइम के लिए नहीं करते हैं उसे फ्यूचर के लिए करते हैं।

क्योंकि नेटवर्क मार्केटिंग जैसे कंपनी को बिल्ड करने में कम से कम 2 से 3 साल तो लग ही जाता है।

आज के समय में जितने भी बिजनेस प्लान है वह इतनी फास्ट है कि उसे बिल्ड करने के लिए 2 से 3 साल तो नहीं कहा जा सकता है।

लेकिन फिर भी उस बिजनेस को अच्छी इनकम पर लाने के लिए कम से कम 1 साल तो जरूर लगता है।

अब यहां पर बहुत सारे लोग यह सोचते हैं कि आखिर पता कैसे करें कि जिस कंपनी में मैं जुड़ रहा हूं वह कंपनी परफेक्ट है या नहीं ?

यह परफेक्ट शब्द जो है यह बोलना तो बहुत आसान है लेकिन कहा जाता है कि इस दुनिया में कुछ भी परफेक्ट नहीं है nobody’s perfect.

हमारे साथ टेलीग्राम पर जुड़ें

Choose Best MLM Company बेस्ट डायरेक्ट सेल्लिंग कंपनी का चुनाव करने का तरीका कभी गलत कंपनी में नहीं फंसोगे (1)

लेकिन फिर भी यह कैरियर की सवाल है और जब कोई भी व्यक्ति नेटवर्क मार्केटिंग करता है तो कहीं ना कहीं उसकी बात, उसकी इमेज ,उसकी स्टेटस यह सब कुछ उसमें लगाया जाता है।

अब यहां पर सवाल यह आता है कि कौन सी कंपनी चुने यह सवाल जो व्यक्ति पूछते हैं उनके लिए मैं 5 स्टेप बताने वाला हूं।

Choose Best MLM Company

1. Company Profile कंपनी का प्रोफाइल

आप जिस भी कंपनी में जुड़ने जा रहे हैं उस कंपनी का प्रोफाइल आपको अच्छे से चेक करना है।

और जब से गूगल आया है तब से तो प्रोफाइल चेक करना बहुत ही आसान हो गया है।

यह जरूरी नहीं है कि सामने वाला व्यक्ति जो बोल रहा है वह सच ही बोल रहा है और आपको उसके बातों पर विश्वास करना होगा ऐसा नहीं है।

हमारे साथ टेलीग्राम पर जुड़ें

आज के समय में तो जब सामने वाला व्यक्ति बात कर रहा होता है तो वह सुनने वाला व्यक्ति गूगल पर चेक कर रहा होता है कि यह व्यक्ति सही बोल रहा है या झूठ बोल रहा है।

तो इसलिए आपको जो भी कंपनी बताया जाए, कंपनी के जो भी प्रोफाइल बताया जाए और आप जिस भी कंपनी का प्लान देखे हैं उसके बारे में आप एक बार गूगल पर जरूर सर्च करें कि आखिर यह कंपनी कैसा है इस कंपनी की पावर क्या है इस कंपनी की कितने Assets है यह चेक करना बहुत ही ज्यादा जरूरी है।

जिस कंपनी से मैं जुड़ने जा रहा हूं वह कंपनी कितनी पावरफुल है भारत में उनके पास क्या-क्या है, उनके Assets में क्या-क्या है।

इस कंपनी के पास कौन कौन सी ऐसी चीज है जिसके दम पर हम यह कह सके कि यह कंपनी आने वाले 20 साल में इंटैक्ट रहेगी और इसके लिए बहुत ही जरूरी है कंपनी का प्रोफाइल बहुत ही ध्यान से देखें।

कंपनी के प्रोफाइल देखने के बाद यह सारी चीजें चेक करना भी आपकी ही जिम्मेदारी है, यह सिर्फ आपकी जिम्मेदारी है उस कंपनी के बारे में चेक करना कि गूगल के पास इस कंपनी के बारे में क्या जानकारी है।

हमारे साथ टेलीग्राम पर जुड़ें

और मार्केट में यह पता करना भी बहुत जरूरी है उन लोगों से जो लोग उस कंपनी में पहले से जुड़े हैं।

क्योंकि जब कोई व्यक्ति किसी भी चीज से जुड़ता है तो उसके बारे में उसको पूरी जानकारी हो जाती है तो जो लोग उस कंपनी से जुड़े हैं उस कंपनी के बारे में जानते हैं।

नेटवर्क मार्केटिंग में इसलिए इस डिसीजन को आपको बहुत ही सोच समझ कर लेना है।

2. Company Management कंपनी का मैनेजमेंट

आपको कंपनी के मैनेजमेंट के बारे में सब कुछ पता करना होगा।

आपको यह भी पता होना चाहिए कि कंपनी के मैनेजमेंट में कौन-कौन से लोग डेजिग्नेशन पर है और किस-किस व्यक्ति के ऊपर कौन-कौन सी जिम्मेदारी है।

और आपको यह भी पता होना चाहिए कि मैनेजमेंट के जितने भी लोग हैं उनके पास पहले का कितना एक्सपीरियंस है, क्या ओ पहली बार इस बिजनेस को कर रहे हैं या इससे पहले भी वह इस बिजनेस को कर चुके हैं।

आपको यह पता करना होगा कि अगर यह पहले से बिजनेस कर रहे थे तो क्या वह सक्सेसफुल थे की नही थे।

आप उनके बारे में गूगल पर यह जरूर चेक कीजिए कि मैनेजमेंट कितना पावरफुल है।

और यहां पर आपको जो सबसे बड़ी बात चेक करनी है वह आपको यह चेक करनी है कि उस मैनेजमेंट के लोगों के पास एटीट्यूट हेल्पिंग है या नहीं है।

क्योंकि बहुत सारे ऐसे लोग हैं जिनके पास एटीट्यूड हेल्पिंग नहीं होता है, नेटवर्क मार्केटिंग कंपनी सिर्फ हेल्पिंग एटीट्यूड के साथ चलता है।

आपको यह जरूर पता कर लेनी चाहिए कि जो मैनेजमेंट के लोग हैं उनके पास फ्यूचर प्लानिंग क्या है और इसके साथ-साथ उनका एटीट्यूड कैसा है।

क्या वह वाकई में यह देखना चाहते हैं कि उनकी टीम आगे बढ़े यह सारी बातें आपको पता होना चाहिए।

लेकिन अगर आप नये हैं तो शायद आपको मैनेजमेंट से मिलने का मौका ना मिल पाए, क्योंकि बहुत सारी ऐसी भी कंपनी है जिसमें मैनेजमेंट के लोग नहीं होते हैं।

लेकिन फिर भी आपको यह बात जानना बहुत ही जरूरी है कि किस व्यक्ति के क्या रिस्पांसिबिलिटी है।

क्योंकि आप अपना सब कुछ अगले 1 से 2 सालों तक के लिए इसमे लगा रहे हैं तो आपको इसके बारे में सब कुछ जानना बहुत ही ज्यादा जरूरी है।

और अगर आप इन सारी बातों को अच्छे से ध्यान में रखेंगे तो आपका नेटवर्क मार्केटिंग करियर बहुत ही तेजी से बढ़ेगा और आप एकदम फ्री होकर इस बिजनेस को कर पाएंगे।

क्योंकि जब आपको यह पता होता है कि मेरे पीछे कितनी स्ट्रांग लोग खड़े हैं तो आप निडर होकर काम करते हैं।

क्योंकि जब आपको यह पता होता है कि मुझे सपोर्ट करने वाले कितने लोग हैं तो आप मार्केट में बेफिक्र होकर काम करते हैं।

और जब आप मार्केट में खुल कर काम करना शुरू कर देते हैं तो आप का रिजल्ट आना 100% निश्चित है।

जब आपको इन सारी चीजों के बारे में पता चल जाता है तो आपका कॉन्फिडेंस लेवल डबल हो जाता है और जब आपका कॉन्फिडेंस लेवल डबल हो जाता है तो बहुत ही आसानी से सेल हो जाता है क्योंकि मार्केट से सेल उठाना कोई बड़ी बात नहीं है।

3. Company Product कंपनी का प्रोडक्ट

तो सबसे बड़ी चीज आपको यह देखनी है कि उस कंपनी का प्रोडक्ट क्या है और उस कंपनी के प्रोडक्ट रेंज क्या है ?

आपको यह भी देखना पड़ेगा कि कितने प्रतिशत इंडिया को कभर कर सकते हैं इस प्रोडक्ट से और इसके बाद आपको यह देखना है कि इस प्रोडक्ट का क्वालिटी क्या है।

क्योंकि नेटवर्क मार्केटिंग का यह वसूल है कि पहले आप प्रोडक्ट को यूज करें और इसके बाद सेल करें।

तो आपको प्रोडक्ट की क्वालिटी पर बहुत ही ज्यादा ध्यान देना है और आपको यह भी देखना है कि प्रोडक्ट की प्राइस क्या है।

कहीं ऐसी तो नहीं है कि मैं 30000 से 40,000 का प्रोडक्ट बेचने जा रहा हूं और लोगों के पास इतना पैसा ही नहीं है इसलिए।

आप सबसे पहले यह देख लें की उस प्रोडक्ट की प्राइस क्या है क्या वह प्राइस मार्केट एक्सेप्ट कर सकती है कि नहीं कर सकती है।

आपको यह देखना है कि आपके सर्कल में किस तरीके के लोग हैं किस प्रोडक्ट प्राइस पर आप बहुत ही आसानी से काम कर पाएंगे आपको यह देखना है, इसलिए कहा जाता है कि प्रोडक्ट किसी भी कंपनी का बैकबोन है।

4. कंपनी का बिजनेस प्लान Company Business Plan

सबसे पहले तो आपको यह पता होना चाहिए कि जिस कंपनी में मैं जुड़ रहा हूं उस कंपनी का बिजनेस प्लान क्या है ?

क्योंकि मार्केट में तो कई तरह के बिजनेस प्लान है और हर कंपनी कुछ ना कुछ नया इन्वेंशन करना चाहती है।

लेकिन अगर मेर्जली देखा जाए तो मार्केट में दो तरह के प्लान है

  1. सबसे पहला बायनरी लेवल चलानी होती है।
  2. दूसरा जेनेरेशन, जहां पर आपको 5 से 6 लेवल चलाने पर ही एक अच्छी इनकम आप आती है तो बायनरी और जेनेरेशन यह 2 तरह के प्लान मार्केट में है।
  1. बायनरी के फायदे देखे जाए तो इसका स्टार्टिंग बहुत ही आसान है और आपको दो ही लेवल चलानी पड़ती है।

लेकिन अगर बायनरी में आप एक लेवल पर जाकर फिक्स हो जाते हैं और उसके बाद आपको बोनस जरूर मिलते हैं लेकिन बायनरीन कमाई लिमिटेड होती है।

जो बायनरी कंपनी चलाने वाली की मजबूरी है।

  1. जेनेरेशन प्लान में यह देखा गया है कि ज्यादातर वह कंपनी चला रही है जिसके पास रि-परचेस ज्यादा है रि-परचेस पर फोकस करती है, जिनके पास ऐसे प्रोडक्ट है जो बार-बार बिकते हैं जिस कंपनी के पास ऐसे प्रोडक्ट है जो हर महीने सेल होते हैं वह कंपनी रिपरचेस में आती है।

रिपरचेस में अगर आपको कोई बड़ी इनकम लेनी है तो आपको लगभग 3 से 4 लेवल चलानी होती है।

5. Company Support System कंपनी का सपोर्ट सिस्टम

आपको यह पता करना होगा कि कंपनी का सपोर्ट सिस्टम कैसा है यानी कि उस कंपनी का ग्रुप कैसा है जो आपको ट्रेनिंग देगा ?

नेटवर्क मार्केटिंग इंडस्ट्री में ट्रेनिंग सबसे बड़ा रोल प्ले करती है, अगर किसी कंपनी के पास ट्रेनिंग बहुत अच्छी है तो वह कंपनी बहुत ही जल्दी टॉप पर पहुंच जाती है।

और अगर किसी कंपनी के पास ट्रेनिंग और सपोर्ट सिस्टम अच्छा नहीं रहता है तो वह कंपनी आगे नहीं बढ़ पाती है।

इसलिए आपको यह देखना जरूरी है कि आपको वहां पर किस लेवल की ट्रेनिंग मिल रही है वहां पर क्या-क्या टॉपिक कवर होता है और वहां पर कितने ड्यूरेशन में ट्रेनिंग होती है।

और आपको यहां पर यह भी देखना है कि आपके सिनियर लोग आपके पर्सनल काउंसलिंग करते हैं या नहीं करते हैं।

जितने भी सपोर्ट सिस्टम है उन लोगों का बैग्राउंड क्या है जो लोगों सपोर्ट सिस्टम चला रहे हैं उनके बारे में गूगल पर एक बार जरूर सर्च कीजिए और यह देखिए कि उन लोगों का एक्सपीरियंस क्या है।

यह 5 चीजें स्ट्रांग है तो आपकी सक्सेस बहुत ही जल्दी मिल सकती है लेकिन अगर इन 5 चीजों में से कोई भी एक चीज हल्की है तो आपको स्ट्रगल ज्यादा करना पड़ेगा।

इसलिए जब भी किसी डायरेक्ट सेल्लिंग कंपनी का चुनाव करें तो इन 5 बातों का जरुर ध्यान दें, ताकि आप लम्बे समय तक काम को कर सके और एक सफल लीडर बन सकें।

यदि आप सभी को आज का हमारा यह लेख (Choose Best MLM Company बेस्ट डायरेक्ट सेल्लिंग कंपनी का चुनाव करने का तरीका कभी गलत कंपनी में नहीं फंसोगे) पसंद आया हो तो कृपया करके आप सभी हमारे इस लेख को अपने टीम के हर मेंबर के साथ जरूर शेयर करें।

ताकि वह सभी लोग भी (Choose Best MLM Company बेस्ट डायरेक्ट सेल्लिंग कंपनी का चुनाव करने का तरीका कभी गलत कंपनी में नहीं फंसोगे) के बारे में समझ सके और दूसरों को समझा सके।

आप और भी ऐसे बहुत सारे लेख पढने के लिए आप हमारी वेबसाइट www.networkmarketinghindi.com पर Visit कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें

आपका बहुत-बहुत धन्यवाद।

अपने नेटवर्क मार्केटिंग बिज़नेस को 10 गुना रफ़्तार से बढाने के लिए हमारे साथ जुड़िये

नेटवर्क मार्केटिंग हिंदी VIP कम्युनिटी
टेलीग्राम चैनल
ज्वाइन करें
नेटवर्क मार्केटिंग हिंदी
टेलीग्राम ग्रुप डिस्कशन
ज्वाइन करें
नेटवर्क मार्केटिंग हिंदी फेसबुक पेज फॉलो करें
नेटवर्क मार्केटिंग हिंदी फेसबुक ग्रुपज्वाइन करें

Angesh Kumar Gond | Blogger | YouTuber, Hello Guys, मेरा नाम अंगेश कुमार गोंड हैं । मैं एक ब्लॉगर और youtuber हूं । मेरा दो YouTube चैनल है । एक Angesh Kumar Gond जिस पर एक लाख से अधिक सब्सक्राइबर हैं और दूसरा AG Digital World यह मेरा एक नया चैनल है जिस पर मैं लोगों को ब्लॉगिंग और यूट्यूब के बारे में सिखाता हूं, कि कैसे कोई व्यक्ति जीरो से शुरुआत करके एक अच्छा खासा यूट्यूब चैनल और वेबसाइट बना सकता है । Thanks.

Leave a Comment