5 Important Business skills in Hindi हर व्यक्ति को जाना चाहिए

Network Marketing in Hindi

5 Important Business skills in Hindi

5 Important Business skills in Hindi

5 Important Business skills in Hindi; हेलो दोस्तों हम सभी लोग सफलता हासिल करना चाहते हैं, इसीलिए आप इस लेख को पढ़ रहे हो। इसलिए मेरा यह फर्ज बनता है कि मैं यह सच्चाई बता दूं, कि बड़े-बड़े सपने देखने से या दिन रात गधों की तरह मेहनत करने से हमें सफलता नहीं मिलती।

क्योंकि सफलता आपको तभी मिलती है जब आपके पास उस काम को करने के लिए जरूरी skills मौजूद होंगी। आपके पास फंडामेंटल स्किल्स ही मौजूद नहीं होगी तो आपको कभी भी जीवन में सफलता मिल ही नहीं सकती, इसीलिए आपको इतिहास रचना है तो और दुनिया में कुछ बड़ा करके दिखाना है तो आपको कुछ Fundamental Skills सीखनी पड़ेगी।

5 Important Business skills in Hindi
5 Important Business skills in Hindi

1. The Art of Learning

Psychological Research यह बताती है दोस्तों कोई भी बच्चा या इंसान पैदाइशी बुद्धिमान नहीं होता है, बल्कि समय रहते वह बच्चा, अपनी बुद्धि का विकास खुद करता है, तब जाकर के वह बुद्धिमान बन पाता है। हां यह भी सच है कि माता-पिता की खूबियां उस बच्चे में आती है।

लेकिन वह खूबियां भी अपना असर दिखाना तभी स्टार्ट करती है जब आप अपने बुद्धि को एक चरम सीमा तक विकसित किया होगा। जैसे कि बचपन में Sir Issac Newton को स्कूल वालों ने यह कह कर निकाल दिया था कि वह एक मंदबुद्धि बालक है और वह हर वक्त बाकी बच्चों के साथ झगड़ा ही करते रहते हैं।

इसीलिए ऐसे मंदबुद्धि बालक को पढ़ा नहीं सकते, उसके बाद न चाहते हुए भी Sir Isaac Newton को खेती करनी पड़ी थी । जिसके बाद वह खुद ही यह मानने लगे थे शायद सच में भगवान ने उन्हें एक मंदबुद्धि बालक ही बनाया है जिसकी वजह से वह आज दर-दर की ठोकरें खा रहे हैं।

Advertisement

Sir Issac Newton को उनकी मां ने यह बताया कुदरत का नियम ऐसे काम नहीं करता है बेटा, कुदरत का नियम यह कहता है कि आपके शरीर का विकास भगवान खुद करेंगे उसके लिए आपको कोई भी एफर्ट लगाना नहीं पड़ेगा लेकिन जब बात बुद्धि के विकास की आती है तो वहां पर भगवान जी ने उसके विकास की जिम्मेदारी हमें सौंपी है।

इसीलिए बुद्धि का विकास अपने आप नहीं होता, आपकी बुद्धि का विकास तभी होगा जब आप जरुरी एक्शन लेकर उसे विकास की ओर लेकर जाते हो। अगर हम ऐसा नहीं करते हैं तो आप न चाहते हुए भी पूरे जीवन भर अज्ञानी, मूर्ख इंसान बने रहोगे। अब यह बात सुनकर सर आइज़क न्यूटन की आंख खुल गई।

अपनी मां की मदद से उन्होंने फिर से स्कूल ज्वाइन किया और वह कुदरत के नियम के अनुसार हर दिन अपने बुद्धि का विकास करने लगे जिसके लिए वह किताबें पढ़ते थे जटिल से जटिल थ्योरी को समझते थे और प्रैक्टिकल करके अपनी बुद्धि का विकास करते थे और अपनी बुद्धि को चरम सीमा तक लेकर जाते थे।

जिसके परिणाम स्वरूप उन्होंने उसी साल उसी स्कूल में टॉप करके दिखाया। एक अच्छे स्टूडेंट बनकर, टीचर के साथ-साथ उन्हें चिढ़ाने वाले बाकी स्टूडेंट की बोलती बंद कर दी। मगर वह यहां पर भी नहीं रुके उन्होंने अपनी आर्ट आफ लर्निंग की मदद से Trinity College में Admission ले लिए,

और कुछ ही सालों में Law of Gravity , Law of Motion और Calculus जैसे कई सारे चिझो का अविष्कार करके दिखाया और यह चमत्कार इसलिए हो पाया दोस्तों क्योंकि उन्होंने लॉ ऑफ़ लर्निंग का इस्तेमाल करके अपने बुद्धि का विकास चरम सीमा तक किया था और इसी वजह से बचपन में मंदबुद्धि कहलाने वाले बालक को,

Advertisement

आज पूरी दुनिया सबसे बुद्धिमान व्यक्ति मानती है यहां तक कि खुद Albert Einstein अपने वार्ड रूम में सर आइज़क न्यूटन का फ़ोटो लगा कर रखते थे और उन्हें अपना गुरु मानते थे। अगर सर आइज़क न्यूटन ने अपनी मां की बात न मानकर कभी भी अपने बुद्धि का विकास ही नहीं किया होता।

वह आज भी एक मंदबुद्धि इंसान की तरह ही बिना सोचे समझे किसी खेत में ही काम कर रहे होते और अपनी जिंदगी बिता रहे होते और अपने अंदर छुपे अद्भुत काबिलियत को कभी जान ही नहीं पाते ठीक इसी तरह दोस्तों अगर आप अपने अंदर लॉ ऑफ़ लर्निंग को सटीक तरीके से इस्तेमाल कर के,

अपने बुद्धि का विकास करके चरम सीमा तक लेकर जाने की काबिलियत होगी तो आप भी एक दिन इस दुनिया को अपने कदमों में झुका दोगे और यही वजह है कि आज भी दुनिया के जितने भी महान और सफल व्यक्ति हैं वह किताबें पढ़ते हैं लॉ ऑफ लर्निंग का इस्तेमाल करके वह अपने फील्ड में सफलता के शिखर तक पहुंचते हैं।

2. Attention Management

Attention Management यानी कि अपनी ज्ञान को एक जगह केंद्रित करने की स्किल, ऐसे में एक बार की बात है स्वामी विवेकानंद जी देश विदेश की भ्रमण यात्रा पर निकले हुए थे और भ्रमण यात्रा के दौरान जहां भी उन्हें नए-नए ग्रंथ मिलते थे उन्हें वहां पढ़ना पसंद करते थे ऐसे ही एक बार एक लाइब्रेरी बहुत ही पसंद आ गई,

और वह वहीं पर कुछ दिन रुक गए और लाइब्रेरी से एक-एक किताब मंगवा कर पढ़ने लगे। स्वामी विवेकानंद की ज्ञान शक्ति इतनी पावरफुल थी कि वह एक ही दिन में पूरी किताब पढ़ कर दूसरे दिन लाइब्रेरी में वापस लौटा देते थे और ऐसे ही वह हर रोज नए-नए किताबें मंगवाते थे और अगले दिन ही उसे वापस कर देते थे।

Advertisement

यह सब देख कर लाइब्रेरियन परेशान हो गया, एक दिन उसने उनसे पूछ ही लिया कि भाई अगर आप इतनी सारी नई नई किताबें देखने के लिए ही लेकर जाते हैं तो इतनी तकलीफ मत उठाया करो, मैं यहां पर यही सारी किताबें दिखा दूंगा रोज-रोज नई नई किताबें उठाकर लेकर जाना और उसे अगले दिन ही वापिस कर देना यह कोई अच्छी बात नहीं है।

तब उन्होंने कहा नहीं भाई मैं यह किताबें देखने के लिए नहीं लेकर जाता हूं बल्कि मैं यहां किताबें 1 दिन में पूरा पढ़ता हूं और फिर दूसरे दिन लौटाने के लिए आता हूं, यह बात लाइब्रेरियन को झूठी लगी, स्वामी विवेकानंद जी ने कहा महाशय आप नाराज ना हो मैंने आपके द्वारा दी गई सारी किताबें पढ़ी है।

और वह सारी किताबें मुझे मुंह जबानी याद है ऐसा कह कर स्वामी विवेकानंद जी ने किताब लौट आते हुए, उस किताब की महत्वपूर्ण चैप्टर को मुंह जवानी उस लाइब्रेरियन को सुनाएं और यह सुनकर वह पूरी तरह से शौक हो गया और स्वामी जी के चरणों में गिर गया और इस चमत्कारी का राज पूछने लगा,

तब स्वामी जी ने बताया, जब आप किसी चीज में इस कदर डूब जाते हो आपको पता ही ना चले कि आपके आस पास क्या हो रहा है तब आप अपने ध्यान के उच्चरण सीमा को हासिल करने लेते हो जहां पर आप किसी भी चीज को अपने मेमोरी में परमानेंट स्टोर कर लेते हो क्योंकि किसी भी चीज को सीखने के लिए समय के साथ साथ ध्यान केंद्रित करना बहुत जरूरी होता है।

जिस प्रकार एक चित्रकार बिना ध्यान केन्द्रित किये एक मनमोहक चित्र बना नहीं सकता, ठीक उसी तरह बिना ध्यान के एक जीनियस लेवल की सफलता कभी हासिल कर ही नहीं सकते। इसलिए जो इंसान अपने ध्यान को बस में नहीं कर सकता वह कभी भी इस दुनिया की प्रसिद्धियो अपने बस में कर ही नहीं सकता ।

Advertisement

इसी तरह ज्यादातर लोग अपने जीवन में एक जीनियस लेवल की सफलता कर ही नहीं पाते इसी तरह दोस्तों अगर आपके पास अटेंशन मैनेजमेंट की बेहतरीन स्किल होगी तो आप भी दुनिया के सारे सफलताओं को अपने कदमों में झुका दोगे।

3. Communication and Public Speaking Skills

पब्लिक स्पीकिंग के बारे में वारेन बुफेट यह कहते हैं कि आपके पास कितना भी बेहतरीन life-changing आईडिया क्यों ना हो अगर आपको उसे लोगों के सामने बेहतरीन तरीके से प्रजेंट करना नहीं आता है, तो लोग आपकी सच्ची बातों को भी गलत समझकर ठुकरा देंगे ।

इसीलिए यह बहुत जरूरी है कि आप कितनी बेहतरीन तरीके से लोगों के सामने अपने आप को प्रजेंट कर पाते हो यही वजह है कि वारेन बुफेट खुद डेल कार्नेगी की कई सारे कम्युनिकेशन स्किल, वर्कशॉप अटेंड किए थे, ताकि कम्युनिकेशन स्किल एंड पब्लिक स्पीकिंग स्किल में एक मास्टरिंग हासिल कर सकें।

अपने कम्युनिकेशन स्किल में मास्टरिंग हासिल करने के बाद वारेन बुफेट ने अपने बिजनेस को मार्केट में काफी अच्छी तरीके से ग्रो किया था। अब वे बेहतरीन तरीके से अपने आईडिया और इन्वेस्टमेंट स्ट्रेटजी को लोगों के सामने प्रजेंट कर पाते थे जो कि कुछ ही मिनटों में लोगों का भरोसा जीत कर उन्हें उनके बिजनेस में इन्वेस्ट करने के लिए मजबूर कर देते थे।

इसी चीज को Steve jobs भी बहुत बारीकी से यूज़ करते थे। अपने स्पीच को डिलीवर करने से पहले, कुछ टाइम प्रैक्टिस करते थे ताकि अपने ऑडियंस को अपने प्रोडक्ट के साथ कनेक्ट करा सकें और इसी स्किल की वजह से अपने हर इवेंट को यादगार बना देते थे जिससे उनके प्रोडक्ट लोगों के दिलों दिमाग में हमेशा के लिए गहरी स्पेशल जगह बना लेती है।

Advertisement

4. Leadership Skills

यहां पर लीडरशिप स्किल का मतलब होता है कि ऐसा व्यक्ति जो अकेला आगे आकर अपने नेतृत्व से अपने साथ-साथ सहकर्मी, अपने कम्युनिटी को भी अपने सटीक सिद्धांतो की मदद से सफलता के शिखर तक लेकर जाएं ऐसे इंसान को सफल लीडर कहा जाता है , अब दोस्तों आप मान लीजिए कि आप को भारत से अमेरिका जाना है,

और आपके पास दो ही ऑप्शन है पहला यह कि आप राहुल के साथ यात्रा कर सकते हैं जो 10 साल से हवाई जहाज उड़ा रहा है और दूसरा ऑप्शन यह है कि आप अपने बहुत ही जिगरी दोस्त मोहनलाल के साथ यात्रा कर सकते हो कि जो केवल पब्जी गेम में ही प्लेन उड़ा कर लोगों को सही जगह पर लैंड कराया है,

तो आप इन दोनों में से किसके साथ यात्रा करना चाहोगे। जहां तक मुझे याद है आप राहुल के साथ ही यात्रा करना चाहोगे क्योंकि मोहनलाल भले ही आप क्या जिगरी दोस्त है मगर फिर भी उसके साथ हवाई यात्रा कभी नहीं करोगे क्योंकि मोहनलाल के पास हवाई जहाज उड़ाने की कोई भी नॉलेज या स्किल नहीं है।

इसीलिए हंड्रेड परसेंट चांस है कि अपने लीडरशिप में अमेरिका के बदले सीधे स्वर्ग लोक में ही पहुंचा देगा, जबकि दूसरी तरफ राहुल एक अनजान इंसान है फिर भी आप उसी के साथ आप यात्रा करना पसंद करोगे क्योंकि आपको विश्वास है की राहुल अपने लीडरशिप के अंदर सही सलामत अमेरिका पहुंचाएगा।

उसी तरह दोस्तों जब आपके पास अपने स्किल एंड एक्सपीरियंस के साथ अपने काम में अपने साथ अपने सहकर्मियों को भी सफलता तक लेकर जाने की लीडरशिप स्किन मौजूद होगी, तो दुनिया भर के अनजान लोग भी आपके सामने आंखें बंद करके भरोसा करेंगे जिसके जीते जागते एग्जांपल हैं रतन टाटा जी, स्वर्गीय नेशनल मंडेला एंड स्टील जॉब्स, जिन्होंने अपने लीडरशिप स्किल की वजह से अपने साथ-साथ हजारों लोगों को सफलता के शिखर तक पहुंचाया है।

Advertisement

आज के हालात देखे तो हमारे देश के साथ-साथ पूरी दुनिया को ऐसे लाखों लीडर की जरूरत है, जो लाखों बेरोजगार लोगों को सफलता के शिखर तक लेकर जाएं इसीलिए आपके पास भी ऐसा स्किल है तो यह दुनिया आपके कदमों में झुक जाएगी मगर दोस्तों यह तभी संभव हो पाएगा जब आपके पास भी राहुल की तरह ही जरूरी स्किल, नॉलेज, एक्सपर्टीज होगी।

5.Be an Expert in your Field

आप अपने फील्ड में तभी सफलता हासिल कर सकते हो जब आपके अंदर अपने फील्ड की एक्सपर्ट बनने की काबिलियत होगी। अगर आप इस वक्त देखोगे तो इस समय जो भी लीडर अपने फील्ड में एक्सपर्ट है, बहुत ही समझदारी से अपने बिजनेस और काम को नेक्स्ट लेवल पर लेकर जा रहे हैं।

और अपने बिजनेस को करने के लिए नए-नए तरीके ढूंढ रहे हैं। लेकिन जो लोग बिना स्किल के ही बिजनेस शुरू करते हैं उन लोगों को काफी भारी मात्रा में नुकसान का सामना करना पड़ता है इसीलिए दोस्तों बिजनेस हो या अपना पर्सनल लाइफ अगर आपके पास स्किल नॉलेज एक्सपर्टीज नहीं होगी तो आप विकट परिस्थिति में भी, विनाश होना पक्का है ।

लेकिन अगर आपके पास यह 1. Art of Learning 2. Attention Management 3. Communication and Public Speaking Skills 4. Leadership Skills 5. Be an Expert in your field. पांचों स्किल मौजूद होगी तो आप आंधी तूफान भरे हालातों में भी बहुत ही सरलता से सफलता के शिखर तक पहुंच जाओगे।

तो दोस्तों कमेंट करके मुझे जरूर बताइएगा कि आप इन पांच में से कितने स्किल को 2021 में डिवेलप करने वाले हो और उसमें मास्टरी हासिल करने वाले हो, उम्मीद करता हूं कि आप सभी को यह 5 Important Business skills in Hindi लेख बहुत ही पसंद आया होगा अगर आप सभी को यह लेख अच्छा लगा तो जल्दी से अपने दोस्तों के साथ शेयर कर दें।
सभी को बहुत-बहुत धन्यवाद।

Advertisement

इसे भी पढ़ें :- टीडीएस क्या होती है ? क्यों काटा जाता है टीडीएस ? क्या होता है FORM 16/16A ? क्या होता है FORM 26AS ? जानिए टीडीएस से जुड़ी कई बातें,

Story of Failure of great man, who achieve success after failure. ( महापुरुषों की असफलता की कहानी जिन्होंने असफलता के बाद सफलता हासिल की। )

Top 10 Indian YouTubers 2021 Top Indian Youtubers Net Worth

The secret of success in network marketing. नेटवर्क मार्केटिंग में सफलता का रहस्य

Advertisement
क्या आप एक सफल लीडर बनाना चाहते हैं ?डायरेक्ट सेल्लिंग या जीवन के किसी भी क्षेत्र में सफल होने के लिए यह किताबें जरुर पढ़ें

(  500+ बेस्ट हिंदी eBooks )
ये सभी किताबें आपको डायरेक्ट सेल्लिंग में नंबर 1 लीडर बना देंगी. इसलिए आप सभी इन किताबों को जरुर पढ़ें और अपने टीम के हर मेम्बर्स को भी पढने के लिए कहें.

Please Share This

Leave a Comment